ROHIT SHARMA AND KL RAHUL

रोहित शर्मा और केएल राहुल: आईसीसी टी20 विश्व कप 2022 (ICC T20 World Cup 2022) में भारतीय क्रिकेट टीम और दक्षिण अफ्रीका टीम के बीच (IND VS SA) 29 अक्टूबर को विश्वकप का 30वां मैच खेला जाना है, जिसमें भारतीय टीम अपने दोनों मैच जीतकर और दक्षिण अफ्रीका एक जीत और एक बेनतीजा के बाद ये मैच खेलने वाली है।

वहीं दोनों टीम ग्रुप की नंबर एक और दो टीम है, जिसके बाद ये टक्कर काफी रोमांचक होने वाली है। जानिए टीम को अच्छी शुरुआत देने के लिए भारतीय और दक्षिण अफ्रीका टीम क्या सलामी जोड़ी लेकर आएगी।

भारत- केएल राहुल और रोहित शर्मा

भारतीय क्रिकेट टीम की तरफ से भारतीय कप्तान और उपकप्तान की जोड़ी मैदान पर टीम को अच्छी शुरुआत देने की कोशिश करेगी। केएल राहुल शुरुआती दोनों मैच में संघर्ष करते नजर आए हैं।

केएल राहुल पाकिस्तान टीम के खिलाफ सिर्फ 4 रन बनाकर आउट हो गए थे। तो वहीं नीदरलैंड जैसी टीम के खिलाफ भी केएल राहुल 9 रन ही बना सके थे और आउट हो गए थे। इस बार दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया उनसे अच्छी शुरुआत की उम्मीद करेगी।

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा का बल्ला पाक टीम के खिलाफ नही चला था बल्कि 4 रन बनाकर आउट हो गए थे। लेकिन नीदरलैंड्स के खिलाफ रोहित शर्मा में टीम को एक अच्छी शुरुआत दी थी। रोहित शर्मा ने अर्धशतकीय पारी खेली थी, जिसके बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी टीम से अच्छी पारी की उम्मीद की जा रही है।

Also Read : बाबर आजम के अकड़ में डूबी पाकिस्तान, कप्तान के इन 4 फैसलों की वजह से टी20 विश्व कप में हुआ टीम का बंटाधार

दक्षिण अफ्रीका – टेंबा बावुमा और क्विंटन डि कॉक

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से कप्तान टेंबा बावुमा और विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डि कॉक सलामी बल्लेबाज बनकर उतरेंगे। दक्षिण अफ्रीकी कप्तान का बल्ला भले ही फॉर्म में ना हो, लेकिन विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डि इस समय अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं।

दोनों बल्लेबाज भारत के खिलाफ हाल ही में सीरीज खेल चुके हैं, इसलिए उन्हें भारतीय गेंदबाजी का अनुभव बना हुआ है। जिसके बाद खिलाड़ी अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दे सकते हैं।

जिम्बाब्वे के खिलाफ भले ही कोई नतीजा न निकला हो, लेकिन क्विंटन डि कॉक का बल्ला काफी तेजी से चल रहा है। इस बात में कोई दोराय नहीं है। जिम्बाब्वे के खिलाफ क्विंटन डि कॉक ने नाबाद 261 के स्ट्राइक रेट से 18 गेंद पर 47 रन बनाए थे। जबकि कप्तान महज दो ही बना सके थे, जिसके बाद बांग्लादेश के खिलाफ भी क्विंटन डि कॉक का बल्ला काफी तेजी से चला था। उन्होंने 68 रन बनाए थे।

Also Read : अभी भी टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बना सकती है पाकिस्तान, अब करना होगा ये काम