'मैं आज जो हूं उन्ही की वजह से हूं, मात्र 3 मैच में बाद ही उन्होंने बोला- तुम वर्ल्डकप खेल रहे हो'- हार्दिक पांड्या
'मैं आज जो हूं उन्ही की वजह से हूं, मात्र 3 मैच में बाद ही उन्होंने बोला- तुम वर्ल्डकप खेल रहे हो'- हार्दिक पांड्या

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में अपना दबदबा साबित करने के बाद अब हार्दिक पांड्या (HARDIK PNADYA) ने पिछले टी20 विश्वकप के बाद से लगभग छ महीने के बाद टीम में वापसी की है। पांड्या ने आईपीएल अपनी ऑल राउंडर प्रतिभा को एक बार फिर सबके सामने रखा और साथ को पहली बार कप्तानी करने के बाद भी खिताब जीता। हार्दिक पांड्या और महेंद्र सिंह धोनी के बीच मैदान पर और मैदान के बाहर भी काफी अच्छी दोस्ती बताई देखी गई है। लेकिन हाल में  पांड्या ने अपने शुरुआती दिनों के बारे में बात करते हुए कहा कि वो काफी खुशकिस्मत है जो उन्हें महेंद्र सिंह धोनी के अंडर खेलने का मौका मिला। शुरुआती तीसरे मैच में ही महेंद्र सिंह धोनी में कह दिया था कि हार्दिक पांड्या विश्वकप टीम का हिस्सा होंगे।

बहुत भाग्यशाली हूं जो एमएस धोनी की कप्तानी में खेला : हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या ने एक पॉडकास्ट में बात करते हुए उनके करियर के शुरुआती समय के एक किस्से के बारे में बताया। जहां पर पांड्या ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी ने तीसरे मैच के बाद ही कह दिया था कि हार्दिक पांड्या विश्वकप खेलेंगे। हार्दिक पांड्या ने कहा,

“मैं जब भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल हुआ। तब मैंने उन लोगों को देखा, जिनको देखते हुए मैं बड़ा हुआ था। सुरेश रैना, हरभजन सिंह, युवराज सिंह, एमएस धोनी, विराट कोहली और आशीष नेहरा ये सभी स्टार खिलाड़ी थे। अपने पहले ओवर के बाद मुझे ऐसा लग रहा था कि मैं पहला खिलाड़ी हूं, जिसने अपने पहले ओवर में 21 रन दे दिए थे। मुझे लगा ठीक है, यह मेरा आखिरी ओवर हो सकता है। लेकिन मैं अपने आपको बहुत भाग्यशाली मानता हूं कि मैं एमएस धोनी की कप्तानी में खेला। उन्होंने आज मैं जहां हो मुझ पर भरोसा करके इस मुकाम तक पहुंचाने में मदद की”।

Also Read : जानिए कितनी संपति के मालिक हैं हार्दिक पांड्या, इन 6 अभिनेत्रियों से रहा है HARDIK PANDYA का सम्बंध, जीते हैं ऐसी लक्जरी लाइफ

तीसरे मैच में माही भाई ने कहा मैं विश्वकप खेलूंगा

पांड्या ने अपने इंटरनेशनल पहले मैच में अपने पहले ही ओवर में 21 रन खर्च कर दिए थे। हार्दिक पांड्या ने अपने डेब्यू मैच में 37 रन देकर 2 विकेट हासिल किए थे। हालंकि पांड्या को इस सीरीज में बैटिंग का अवसर नहीं मिला था। लेकिन इस सीरीज में 3 विकेट लेने में सफल हुए थे। इस बार का जिक्र करते हुए हार्दिक पांड्या ने कहा,

“मेरे इंटरनेशनल करियर के तीसरे मैच के बाद माही भाई ने मुझसे ये कह दिया था कि आप वर्ल्ड कप टीम में होंगे। अपने तीसरे मैच में आपको यह पता होना कि वर्ल्ड कप में खेलोगे, बहुत बड़ी बात थी। मैंने तब तक किसी मैच में बल्लेबाजी नहीं की थी। लेकिन माही भाई ने मुझे ये आश्वासन दिया कि आपने खुद को साबित किया है। लेकिन हां यह मेरे लिए एक सपना सच होने जैसा था”।

Also Read : IND vs SA: 3 खिलाड़ी जिन पर चयनकर्ताओं ने दिखाया रहम, मगर टी20 सीरीज में कप्तान केएल राहुल नहीं देंगे एक मैच में मौका