'अगर अगली सीरीज में इस खिलाड़ी का नहीं हुआ चयन, तो आश्चर्य की बात होगी'- सुनील गावस्कर ने दिया बयान
'अगर अगली सीरीज में इस खिलाड़ी का नहीं हुआ चयन, तो आश्चर्य की बात होगी'- सुनील गावस्कर ने दिया बयान

भारतीय क्रिकेट टीम को एक जुलाई से इंग्लैंड क्रिकेट टीम के खिलाफ पांच दिन का एक रीशेड्यूल टेस्ट मैच खेलना है। भारतीय टीम को इस साल सीमित प्रारूप में ज्यादा क्रिकेट खेलना है, जबकि टेस्ट सीरीज कम खेलने हैं। लेकिन घरेलू क्रिकेट में 24 साल के युवा सरफराज खान ने टीम में एंट्री का पूरा दांव रखा दिया है।

भारतीय टेस्ट टीम में अब सीनियर खिलाड़ियों के बाद युवा खिलाड़ियों के आने का इंतजार किया जा रहा है। जिसके बाद सरफराज खान की रणजी ट्रॉफी में किए प्रदर्शन के बाद उन्हें जल्द ही अगली सीरीज में भारतीय टीम में मौका मिलेगा। इस माना जा रहा है। इसी बीच सुनील गावस्कर ने भी कहा कि अगली सीरीज में अगर सरफराज खान को मौका नही मिलता है। तब उन्हें इस बात पर आश्चर्य होगा।

अगली सीरीज में ना चुने जाने पर होगा आश्चर्य- सुनील गावस्कर

सरफराज खान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज दिग्गज खिलाड़ी सुनील गावस्कर ने एक कॉलम में लिखा है कि सरफराज खान के प्रदर्शन ने उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम के दरवाजे पर लाकर खड़ा कर दिया है। अगर अगली सीरीज में उन्हे जगह नही मिलती है, तब उन्हें इस बात कर हैरानी होगी।

सुनील गावस्कर ने लिखा,

“सरफराज खान द्वारा रणजी ट्रॉफी में बनाए गए जबरदस्त रन और शतकों ने उन्हें भारतीय टीम में जाने वाले रास्ते में लाकर खड़ा किया है। मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे भारतीय टीम से बाहर हैं। वहीं चेतेश्वर पुजारा को स्कोर करने और टीम में अपनी जगह बनाए रखने के लिए लगभग आखिरी मौका मिला है। जिसके बाद युवा खिलाड़ी सरफराज खान ने निश्चित रूप से अपने लिए चयन समित का दरवाजा खटखटाया है। अगर सरफराज खान का नाम अगली टेस्ट सीरीज के लिए टीम में नहीं आता है, तब ये सच मे आश्चर्य की बात होगी”।

सरफराज खान ने लगातार दो सीजन बनाए 900+ रन

सरफराज खान ने खटखटाया नहीं तोड़ा टीम इंडिया का दरवाजा, इस देश के खिलाफ सीरीज में पक्की हुई भारतीय टीम में जगह

रणजी ट्रॉफी 2021-2022 में सरफराज खान ने कुल 6 मैच में 122.75 के औसत टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 982 रन बनाए हैं। जिसमें खिलाड़ी ने चार शतक और दो अर्धशतक भी बनाए हैं। सरफराज खान ने रणजी ट्रॉफी फाइनल मैच में मुंबई की तरफ से शतकीय पारी खेली थी। लेकिन वो अपनी टीम की जीत नहीं दिला सके थे। जिसके बाद 41 बार रणजी ट्रॉफी जीतने वाली मुंबई इंडियंस की टीम फाइनल में महाराष्ट्र से हार गई। सरफराज खान ने पिछले सीजन भी 900 से ज्यादा रन बनाए थे।

ALSO READ:IND vs NZ: न्यूजीलैंड के साथ 3 टी20 और 3 वनडे मैच खेलेगी टीम इंडिया, जारी हुआ पूरा शेड्यूल, देखें शेड्यूल

सरफराज खान के नाम जुड़ा खास रिकॉर्ड

रणजी फाइनल जड़ने के बाद भी मुंबई की रणजी चैम्पियन फाइनल हराना पड़ा। लेकिन सरफराज खान को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट खिताब दिया गया। जिसे खिलाड़ी ने अपने पिता को समर्पित किया है। सरफराज खान ने पिता द्वारा की गई कठिनाइयों को भी बताया और साथ ही कहा कि वो हमेशा से ही रणजी फाइनल में शतक जड़ने का सपना देखते आए है। 900 से ज्यादा रन बनाने के बाद सरफराज खान ऐसा करने वाले तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं।

ALSO READ:IND vs LEI: बीच मैच में BCCI ने बदला भारतीय टीम का कप्तान, चमक गयी इस खिलाड़ी की किस्मत, नए कप्तान देख हुए कन्फ्यूज