SHREYAS IYER

साल 2015 और साल 2019 के वनडे विश्व कप में भारत के पास चार नम्बर पर कोई बेहतरीन बल्लेबाज नही था. 2023 के वनडे विश्व कप से कुछ महीने पहले तक एक बार फिर से नम्बर चार की समस्या शुरू हो गई थी, लेकिन इसका निवारण श्रेयस अय्यर ने किया.

श्रेयस ने नीदरलैंड्स और सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ लगातार दो शतक जड़कर नम्बर चार की समस्या को पूरी तरह से खत्म कर दिया है. हैरानी की बात यह है कि अय्यर इस टूर्नामेंट के लिए पूरी तरह फिट नही हैं. इंजेक्शन और दवा से वह अपने दर्द को छुपा रहे हैं.

दवा लेकर खेल रहे हैं अनफिट श्रेयस अय्यर

नीदरलैंड्स के खिलाफ शतक जड़ने के बाद जब पोस्ट मैच प्रजेंटेशन में श्रेयस अय्यर से उनके पारी के बारे में पूछा गया था तब उन्होंने कहा कि,

‘मुझे कई मैच में शुरुआत मिला, साउथ अफ्रीका के खिलाफ भी ऐसा हुआ था. लेकिन मैंने अपना विकेट फेंक दिया. (हालांकि आज नहीं), लेकिन मैं इस बार नॉट आउट आना चाहता था. मैंने ऐंठन के लिए गोलियाँ लीं. मुझे लगता है कि हालिया स्कोर से मुझे इस पारी में मदद मिली.’

सीधे वाले शाॅट पर बहुत काम किया है~ श्रेयस अय्यर

श्रेयस अय्यर ने आगे कहा कि,

‘विकेट चिपचिपा और दो गति वाला था. मैं बस शुरुआत का फायदा उठाना चाहता था और मैं ऐसा करने में सक्षम था. मैंने सीधे शॉट पर बहुत काम किया है. मैं बस इसे सीधे मारने की कोशिश कर रहा था. जब मैं स्लॉग शॉट खेलने की कोशिश कर रहा होता हूं तो यह सिर को सीधा रखने और बल्ले के फॉलोथ्रू के बारे में होता है.’

नम्बर चार पर शतक लगाने वाले तीसरे बल्लेबाज

नम्बर चार पर शतक लगाना बहुत आसान नही होता. विश्व कप में नंबर चार पर शतक लगाने वाले बल्लेबाजों में श्रेयस अय्यर सचिन तेंदुलकर और युवराज सिंह के बाद भारत के तीसरे बल्लेबाज़ बन गए हैं.

इससे पहले भारत के लिए बइस पोजीशन पर वर्ल्ड कप में शतक युवराज सिंह ने 2011 में लगाया था. नम्बर चार पर एक विश्व कप में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों में भी श्रेयस अय्यर शीर्ष पर पहुंच गए है.

ALSO READ: मोहम्मद आमिर ने लगाई बाबर आजम की क्लास, कहा “तुम धोनी की बात करते हो, उसने टीम इंडिया को बदल कर….