CSK

इंडियन प्रीमियर लीग ( IPL) 2022 के संस्करण में महेंद्र सिंह धोनी ( MS Dhoni) ने कप्तानी रविंद्र जडेजा ( Ravindra Jadeja) के हाथ में सौप दी थी। जिसके बाद चेन्नई सुपर किंग्स फ्रेंचाइजी आईपीएल 2022 की प्वाइंट टेबल में लगातार पिछड़ी नजर आ रही थी और साथ ही रविंद्र जडेजा की फार्म में भी गिरावट दर्ज की गई थी।

लेकिन अब जब चेन्नई सुपरकिंग्स प्ले ऑफ की रेस में बहुत पीछे नजर आ रही है। तब एक बार फिर कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी के हाथ में है। रविंद्र जडेजा ने उन्हें कप्तानी वापस सौप दी है। इस निर्णय के बाद चेन्नई सुपर किंग्स के तीन दूरगामी परिणाम देखने को मिल सकते हैं।

धोनी खेलेंगे 2023 आईपीएल

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी के निर्णय को देखने के बाद इस बात को साफ तौर पर कहा जा सकता है कि वो पहले टीम के विषय में सोचते हैं। जिसके बाद 2022 आईपीएल में फ्रेंचाइजी की कप्तानी की जिम्मेदारी इस तरह सौंपने के बाद टीम के रिजल्ट को देखते हुए वो अगले साल आईपीएल में चेन्नई के कप्तान बने रह सकते है।

यूं तो धोनी के निर्णय को अनप्रिडिक्टेबल कहा जाता है। लेकिन उन्होंने साल में सनराइजर्स हैदराबाद के साथ टॉस के समय अगले साल भी येलो जर्सी में खेलने की बात कही है। साथ ही इस इंटरव्यू में अपना अंतिम आईपीएल मैच चेन्नई सुपरकिंग्स के घरेलू मैदान चेपक स्टेडियम में खेलने की बात कही थी। जिसके बाद कहा जा सकता है कि अगले साल भी खिलाड़ी येलो जर्सी में नजर आएंगे।

अब रविंद्र जडेजा नहीं बनेंगे कप्तान

रविंद्र जडेजा

रविंद्र जडेजा को पिछले साल से ही आईपीएल कप्तान होंगे, ऐसा बता दिया गया था। चेन्नई सुपर किंग्स फ्रेंचाइजी ने इस बात का जिक्र किया है। जिसके बाद भी रविंद्र जडेजा का इस तरह लीग की सबसे ज्यादा चर्चा में रहने वाली टीम की कप्तानी छोड़ने के बाद तय है कि वो अब 33 साल के होने के बाद अब कप्तानी के लिए नही चुने जायेगे।

ALSO READ:IPL 2022 : महेला जयवर्धने ने किया अपने ड्रीम टी20 टीम का ऐलान, लिस्ट में मात्र एक भारतीय को दी जगह

चेन्नई की कप्तानी विदेशी हाथों में?

जडेजा धोनी

चेन्नई सुपर किंग्स के लिए अब तक महेंद्र सिंह धोनी कप्तानी करते नजर आए हैं। जिसके बाद रविंद्र जडेजा को ये मौका मिला। लेकिन अब कप्तानी फिर महेंद्र सिंह धोनी के हाथ में है। रविंद्र जडेजा को अब कप्तानी का विकल्प नही समझा जायेगा। टीम के मुख्य खिलाड़ी रॉबिन उथप्पा और अंबाती रायुडू भी अपने करियर के अंतिम पड़ाव पर है। रविंद्र जडेजा के कप्तानी संभालने के रिज़ल्ट को देखने के बाद फ्रेंचाइजी अपने खास लेकिन कप्तानी के लिए अनुभव हीन ऋतुराज गायकवाड़ और दीपक चाहर की तरफ शायद ही देखेगी। जिसके ऐसा कहा जा सकता है कि किसी विदेशी खिलाड़ी को कप्तान बनाया जाए।

ALSO READ:IPL 2022: ग्लेन मैक्सवेल ने बनाया था उथप्पा को आउट करने का प्लान, प्लेऑफ में RCB बना पायेगी जगह दिया ये जवाब