BCCI ने नहीं दी श्रीसंत को टीम इंडिया में जगह, तो संन्यास लेकर अब इस विदेशी टीम के लिए खेलते आयेंगे एस श्रीसंत
BCCI ने नहीं दी श्रीसंत को टीम इंडिया में जगह, तो संन्यास लेकर अब इस विदेशी टीम के लिए खेलते आयेंगे एस श्रीसंत

पूर्व भारतीय तेज़ गेंदबाज़ श्रीसंत (SREESATHN) लंबे वक़्त बाद एक बार फिर क्रिकेट के मैदान पर उतर कर अपना जलवा बिखेरने के लिए तैयार हैं. इस साल खेले जाने अबु धाबी टी10 लीग में श्रीसंत खेलते हुए दिखाई देंगे. श्रीसंत का ये पहला सीज़न होगा, जब वो इस लीग का हिस्सा होंगे. अबु धाबी टी10 लीग 23 नंवबर से लेकर 4 दिसंबर के बीच खेला जाएगा. यह इस लीग का छठा सीज़न होगा.

इस टीम का होंगे हिस्सा

bangla tigers

बीते गुरुवार को श्रीसंत (SREESATHN) को बंगला टाइगर्स की तरफ से साइन किया गया. श्रीसंत (SREESATHN) के साथ बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब अल हसन (SHAKIB AL HASAN) भी इस टीम का हिस्सा बने. श्रीसंत (SREESATHN) 39 साल के हो चुके हैं. उन्होंने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत साल 2005 में की थी. श्रीसंत ने साल 2006 में अबु धाबी ज़ायद क्रिकेट स्टेडियम में अपनी पहली बड़ी सीरीज़ खेली थी, जहां टी10 खेला जाता है.

9 साल बाद की थी क्रिकेट में वापसी

sreesanth

दो बार वर्ल्ड कप विजेता टीम का हिस्सा रहे चुके श्रीसंत (SREESATHN) ने पिछले साल केरला के लिए खेलते हुए 9 साल बाद क्रिकेट में वापसी की थी. भ्रष्टाचार के मामले में आजीवन लगने के बाद उन्होंने क्रिकेट में वापसी की.

टीम करे मुझ पर भरोसा

sreesanth

टीम के लिए चुने जाने के बाद श्रीसंत ने दुबई के होटल मेट्रोपोलिटन में बात करते हुए कहा,

“उम्र के इस चरण में मुझे नहीं लगता कि मैं किसी को सलाह दूं. लेकिन मैं अपनी टीम से मेरे उपर विश्वास करने का अनुरोध करता हूं.”

उन्होंने आगे कहा,

“सारा सिस्टम विश्वास का है. मेरे जैसे खिलाड़ी के लिए केरल से आना और टीम के लिए दो वर्ल्ड कप जीतना, यही मेरा मोटीवेशन है.”

आगे बात करते हुए कहा,

“मेरे कप्तान (शाकिब) और टीम प्रबंधन के साथ मुझे पूरा भरोसा है कि हमारे पास अनुभवी लोग और शानदार टीम है.”

ALSO READ: The Hundred 2022: स्मृति मंधाना ने द हंड्रेड में उड़ाया गर्दा, 31 गेंदों में ही तोड़े कई रिकॉर्ड, सिर्फ चौके छक्के से बनाया 48 रन

बंगाल टाइगर्स मेरे घर जैसी

शाकिब अल हसन ने उस इवेंट में बात करते हुए कहा,

“दुबारा टीम का हिस्सा बनने पर मैं बहुत उत्साहित हूं. मुझे पहला साल याद है. हमने कप जीता, और मुझे उम्मीद है कि हम इस साल बांग्ला टाइगर्स के साथ इसी तरह का प्रदर्शन कर सकते हैं.”

शाकिब ने आगे बात करते हुए कहा,

“बंगला टाइगर्स मेरे दिल के बहुत करीब है, क्योंकि इसका मालिकाना एक बांग्लादेशी के पास है, इसलिए मुझे ऐसा नहीं लगता है कि मैं घर से दूर हूं.”

ALSO READ: IND vs PAK: जब बीच मैदान पर छिड़ गई भारत-पाक खिलाड़ियों के बीच जंग, लाइव मैच में सरेआम हुई गाली गलौज