सोनाली फोगाट की मौत से पहले 14 साल पहले भी सुर्खियों में था रेस्तरां 'कर्लीज', जानिए पूरी कहानी
सोनाली फोगाट की मौत से पहले 14 साल पहले भी सुर्खियों में था रेस्तरां 'कर्लीज', जानिए पूरी कहानी

22 अगस्त को सोनाली अपनी टीम के साथ गोवा गई थीं और वह अंजुना समुद्र तट पर स्थित रेस्तरां ‘कर्लीज’ में रुकी थीं। यह रेस्तरां 14 साल पहले भी सुर्खियों में था क्योंकि यहां एक ब्रिटिश किशोरी की मौत हो गई थी। बीजेपी नेता और टिक टॉक स्टार सोनाली फोगाट इसी होटल में रुकी थी और उन्हें बेचैनी की शिकायत हुई। जिसके बाद वह अपने कमरे में गईं। उसके बाद 23 अगस्त की सुबह उन्हें आनन-फानन में सेंट एंथोनी अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

शुरुआती दौर में उनकी मौत की वजह हार्टअटैक को माना जा रहा था। लेकिन उनके भाई ने दावा किया कि उनकी मौत नहीं बल्कि हत्या हुई है। इस मामले में गोवा पुलिस ने दो सहयोगियों को गिरफ्तार कर लिया है।

2008 में चर्चा में आया था यह रेस्तरां

बता दें कि साल 2008 में एक ब्रिटिश किशोरी की मौत का मामला सामने आया था। उसका नाम किलिंग था। किलिंग की मां ने उस वक्त दावा किया था कि उनकी बेटी की हत्या की गई है। उस मामले की जांच में पता चला कि उसका यौन उत्पीड़न किया गया था और समुद्र तट पर मार कर छोड़ दिया गया।

एक बार फिर चर्चा में आया गोवा का यह रेस्तरां

2008 की में किलिंग की मौत के बाद एक बार फिर यह रेस्तरां फिर चर्चा में आया है। इस बार हरियाणा के हिसार की रहने वाली सोनाली फोगाट की हत्या हुई है। इस मामले में 2 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। सोनाली की भतीजे का दावा है कि यह दोनों सुधीर और सुखविंदर ने ही किया है।

सोनाली के भतीजे मोहिंदर ने कही है बात

बता दें कि सोनाली फोगाट के भतीजे मोहिंदर ने कहा कि सोनाली होटल में अपने रूम पहुंची और उसके बाद उन्हें बेचैनी की शिकायत हुई जिसके बाद में अस्पताल ले जाया गया लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले उनकी मौत हो चुकी थी। वहीं कर्लीज के मालिक एडविन नून्स ने कहा कि सोनाली रेस्त्रां में आई थी और उनके साथ और भी लोग थे। लेकिन कोई स्टाफ उन्हें नहीं जानता

उन्होंने कहा कि उनके लिए नॉर्मल कस्टमर थे। वहीं उन्होंने कहा कि सोनाली की मौत के सिलसिले में पुलिस उनसे लगातार पूछताछ कर रही है।

ये भी पढ़ें-भारत छोड़ अब इस विदेशी टीम की जर्सी में खेलते नजर आयेंगे शुभमन गिल