शेन वॉटसन

पूर्व क्रिकेटर्स समय-समय पर अपनी सर्वश्रेष्ठ टीम और सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ों या गेंदबाज़ों के बारे में बताते हुए नज़र आते हैं. जिसके बाद दुनिया भर के तमाम क्रिकेट एक्सपर्ट्स और क्रिकेट फ़ैंस के बीच एक अलग ही चर्चा छिड़ जाती है.

हाल ही में क्वींसलैंड से तअल्लुक़ रखने वाले 40 वर्षीय पूर्व सीनियर ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ऑलराउंडर शेन वॉटसन ने मौजूदा वक़्त की टेस्ट क्रिकेट में अपने 5 सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ चुने हैं. इसी सिलसिले में उन्होंने पाकिस्तानी कप्तान बाबर आज़म और पूर्व सीनियर भारतीय कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज़ विराट कोहली के बीच भी एक तुलना की है. इस आर्टिकल में हम बात करेंगे वॉटसन के 5 बेस्ट टेस्ट बल्लेबाज़ों के बारे में.

शेन वॉटसन ने चुने दुनिया के सर्वश्रेष्ट 5 टेस्ट बल्लेबाज़

Shane-Watson

2016 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ऑलराउंडर शेन वॉटसन फ़िलहाल आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स के असिस्टेंट कोच हैं. उन्होंने हाल ही में टेस्ट क्रिकेट के 5 बल्लेबाज़ चुने. इस लिस्ट में वॉटसन ने पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली को पहले नंबर पर जगह दी है.

इसके अलावा उन्होंने इस लिस्ट में मौजूदा भारतीय कप्तान रोहित शर्मा, पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ, सीनियर कीवी कप्तान केन विलियमसन, सीनियर इंग्लिश कप्तान जो रूट और युवा पाकिस्तानी कप्तान बाबर आज़म को चुना है.

शेन वॉटसन के मुताबिक विराट मौजूदा वक़्त के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट बल्लेबाज़

विराट कोहली

गौरतलब है कि 2019 से अब तक पूर्व भारतीय कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज़ विराट कोहली कोई भी शतक नहीं लगा पाए हैं. लेकिन इसके बावजूद शेन वॉटसन के मुताबिक विराट कोहली मौजूदा वक़्त में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट बल्लेबाज़ हैं.

इसक अलावा अपनी इस लिस्ट में विराट कोहली के बाद पाकिस्तानी कप्तान बाबर आज़म का नाम शेन वॉटसन ने चुना है. इसके अलावा जो रूट, केन विलियमसन और स्टीव स्मिथ की भी टेस्ट बल्लेबाज़ी को भी कोई नज़रअंदाज़ नहीं कर सकता.

ALSO READ:IPL 2022: ‘मै अपनी तारीफ नहीं कर रहा, लेकिन टीम इंडिया का बेस्ट फिनिशर बन सकता हूँ और धोनी जैसा कप्तान भी हूँ’

टेस्ट क्रिकेट में विराट हमेशा मेरी पहली पसंद – शेन वॉटसन

इस मामले में बयान देते हुए शेन वॉटसन कहते हैं कि,

“टेस्ट क्रिकेट में विराट कोहली हमेशा मेरी पहली पसंद होंगे. उनके अंदर एक सुपरह्यूमन की सभी क्वालिटीज़ हैं. जिसकी सबसे बड़ी वजह ये है कि वो जब भी मैदान पर बल्लेबाज़ी के लिए उतरते हैं तो पूरी इंटेंसिटी और गंभीरत के साथ बल्लेबाज़ी करते हुए नज़र आते हैं.” 

ALSO READ:MI vs PBKS: जिस खिलाड़ी को मुंबई ने बेंच पर बैठा कर एक-एक मौके के लिए तरसा दिया, वही बना पंजाब का हथियार खेला ताबड़-तोड़ पारी