IND vs NZ TEAM INDIA MS DHONI

कल भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व कप 2023 का पहला सेमीफाइनल का मैच खेला गया. भारत ने साल 2019 का बदला सूद-समेत चुकाते हुए न्यूजीलैंड को 70 रन से हरा दिया. भारत के इस बड़े जीत के पांच बड़े कारण है जिसे हम इस लेख में डिस्कस करने वाले हैं.

रोहित शर्मा की कप्तानी और तेज शुरुआत

पूरे विश्व कप में रोहित शर्मा की कप्तानी बेहद कमाल रही है. वह मैच के किसी भी मौके पर ज्यादा उत्साहित नहीं होते हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ भी जब विलियमसन और मिचेल की साझेदारी हो रही थी तो रोहित शर्मा ने उसे बहुत ही सावधानी से टैकल किया और अपने मुख्य गेंदबाजों पर भरोसा रखा. कप्तानी के साथ-साथ रोहित शर्मा जिस प्रकार से शुरुआत दे रहे हैं वह कही न कही जीत की एक टोन सेट कर रहा है.

मोहम्मद शमी की घातक गेंदबाजी

न्यूजीलैंड के खिलाफ मोहम्मद शामी ने 9.5 ओवर की गेंदबाजी की 57 रन दिए और 7 बल्लेबाजों को पवेलियन भेज दिया. वह मोहम्मद शमी ही थे, जिन्होंने न्यूजीलैंड को शुरुआती झटके दिए. फिर उन्होंने मिडिल ओवर में जाकर उनके सेट बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा.

हैरानी होती है कि मोहम्मद शमी भारत के प्राथमिक प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं थे. मोहम्मद शमी के इस प्रदर्शन के लिए उनको मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड भी दिया गया.

श्रेयस अय्यर का तेजतर्रार शतक

रोहित शर्मा के आउट हो जाने के बाद और शुभमन गिल के चोटिल हो जाने के बाद श्रेयस अय्यर बल्लेबाजी करने आए. उस समय विराट कोहली धीमी गति से रन बना रहे थे, लेकिन श्रेयस अय्यर ने मैच के गंभीरता को समझा और तेजतर्रार पारी खेली. सिर्फ 70 गेंद में श्रेयस ने सैकड़ा जड़ भारत को 400 के करीब पहुंचा दिया.

विराट कोहली की कैलकुलेटेड पारी

भले ही कुछ लोग विराट कोहली को धीमी गति से रन बनाने के लिए ट्रोल कर रहे हो या पर्सनल रिकॉर्ड बनाने के लिए ट्रोल कर रहे हो लेकिन विराट कोहली वह बल्लेबाज हैं जिन्होंने भारतीय पारी को हमेशा संभाले रखा. अगर दूसरी छोर से विकेट गिर रही हो तो विराट कोहली एक छोर संभाल कर रखते हैं.

ऐसा हमने लीग मैचो में देखा है, जब भारत की टॉप ऑर्डर फ्लॉप हुई है. चाहे वह ऑस्ट्रेलिया की बात हो या फिर न्यूजीलैंड की बात हो. सेमीफाइनल के मुकाबले में विराट कोहली ने अपने करियर का 50 वां शतक जड़ दिया.

भारत की टाॅप क्लास फील्डिंग

भारत ने टूर्नामेंट में शानदार फील्डिंग का प्रदर्शन किया है. न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल के अहम मैच में भी भारत की फील्डिंग लाजवाब रही है. शुरू में केएल राहुल ने विकेटकीपिंग में शानदार कैच लपके तो अंत में रविंद्र जडेजा ने शानदार फील्डिंग का मुजायरा पेश किया.

ALSO READ: विश्व कप में लगातार 2 शतक लगाने के बाद श्रेयस अय्यर ने सभी को नजरअंदाज कर इस खिलाड़ी को दिया शानदार प्रदर्शन का पूरा श्रेय