IND vs ENG: पहले ओवर में ही शमी से हुई थी ये बात जिसके बाद बुमराह ने चटकाये 6 विकेट, 'मैन ऑफ द मैच' लेते बुमराह का खुलासा

भारत ने इंग्लैंड को पहले वनडे (IND vs ENG) में 10 विकेट से हरा दिया है। 111 रन का लक्ष्य भारतीय टीम ने 18.4 ओवर में बिना किसी नुकसान के हासिल कर लिया। यह पहला मौका है जब भारत ने इंग्लैंड को वनडे में 10 विकेट से हराया है। जीत में जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) का बहुत बड़ा योगदान रहा.

कप्तान रोहित शर्मा ने 76 और शिखर धवन ने 31 रन बनाए। इस जीत के साथ ही भारत ने तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। अब दूसरा वनडे मैच 14 जुलाई को खेला जाएगा। 

गेंदबाजों ने चलाया अपना जादू

IND vs ENG : WWWWWW इंग्लैंड में आया बुमराह का बवंडर, इंग्लैंड की हुई दुर्दशा मिला 10 विकेट से शर्मनाक हार

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने इस मैच में पहले गेंदबाजी का फैसला किया था और गेंदबाजों ने इंग्लैंड को 110 रन पर समेटकर उन्हें सही साबित किया। जसप्रीत बुमराह ने सबसे ज्यादा छह और मोहम्मद शमी ने तीन विकेट लिए। प्रसिद्ध कृष्णा को एक विकेट मिला। इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर ने सबसे ज्यादा 30 रन बनाए। डेविड विली ने 21 और कार्स ने 15 रन की पारी खेली।

बुमराह ने लूटा मेला

जसप्रीत बुमराह
जसप्रीत बुमराह

अपनी बेहतरीन गेंदबाजी और करियर के बेस्ट आंकड़ों के साथ बुमराह ने प्लेयर ऑफ द मैच जीता। पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में उन्होंने कहा,

“जब स्विंग और सीम की गति होती है, तो सफेद गेंद वाले क्रिकेट में इस अवसर को हासिल करना रोमांचक होता है क्योंकि आपको आमतौर पर जिस तरह की पिच मिलती है, उसके साथ आपको बचाव करना पड़ता है। जब मैंने पहली गेंद फेंकी तो मुझे कुछ स्विंग मिली और हमने उसका फायदा उठाने की कोशिश की। जब यह स्विंग नहीं करता है तो मुझे अपनी लंबाई पीछे खींचनी पड़ती है। जब गेंद खुद से हरकत कर रही हो तो आपको ज्यादा प्रयास करने की जरूरत नहीं है। जब विकेट सपाट होता है तो आपकी सटीकता की परीक्षा होती है। जब गेंद स्विंग कर रही हो तो यह एक अच्छी जगह है। हालांकि आज की पिच पर स्विंग थी तो मेरा काम था कि गेंद को सही लेंथ और लाइन पर रखना है।”

बुमराह ने आगे कहा,

“शमी ने जैसे ही पहला ओवर फेंका, हमने आपस में बात की और हमने तय किया कि हम अपनी लेंथ को आगे रखेंगे। उसके लिए बहुत खुश हूं, उसे ढेर सारे विकेट मिले। मैंने उससे कहा कि जब वह बल्ला मारेगा, तो वह दिन आएगा जब वह साइड से भागेगा। जब गेंद घूम रही होती है, तो कीपर और ज्यादा सक्रिय होता है। पंत ने भी आज कुछ कमाल का कैच पकड़ा। बहुत खुश हूं कि ऋषभ अपनी कीपिंग के साथ-साथ अपनी बल्लेबाजी पर भी कड़ी मेहनत कर रहे हैं।”

ALSO READ:महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारत के लिए डेब्यू करने वाले ये 3 खिलाड़ी जी रहे अब गुमनामी की जिंदगी