हरभजन सिंह श्रीसंत

भारतीय क्रिकेट टीम के टर्बनेटर नाम से मशहूर गेंदबाज हरभजन सिंह का आईपीएल में श्रीसंत के साथ आईपीएल के सबसे मशहूर विवादों में से एक है। इस विवाद को लेकर काफी हंगामा हुआ था। आईपीएल के एक लाइव मैच में हरभजन सिंह ने श्रीसंत को बीच मैदान में थप्पड़ मार दिया था। दरअसल भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व स्पिनर हरभजन सिंह ने 2008 में श्रीसंत को थप्पड़ मारा था, जिसके बाद वो काफी बुरी तरह फंस गए थे। हरभजन सिंह के इस विवाद ने क्रिकेट जगत को हिलाकर रख दिया था। हालांकि खिलाड़ी ने कई बार इस गलती को स्वीकार भी किया है। इसी क्रम में अब हरभजन सिंह ने कहा है कि वो श्रीसंत से माफी मांगने के लिए तैयार है।

इस विवाद के कारण मारा था थप्पड़

हरभजन सिंह और श्रीसंत का थप्पड़ विवाद काफी प्रसिद्ध हुआ था। जिसके न हरभजन सिंह पर खेल की भावना से परे काम करने कर बैन भी लगाया गया था। जिसके बाद कई बार उन्होंने श्रीसंत से माफी मांगने की बात की है।

हरभजन सिंह ने एक बार कहा था कि श्रीसंत को थप्पड़ मरना मेरे फील्ड में सबसे बड़ी गलती है, जिसे अगर मुझे एक मौका मिले तो मैं जरूर सुधारना चाहूंगा। दरअसल, हरभजन और श्रीसंत के बीच 2008 में किंग्स इलेवन पंजाब (पंजाब किंग्स) और मुंबई इंडियंस के बीच हुए मैच के बीच में काफी तकरार हो गई थी। जिसके बाद हरभजन सिंह ने गुस्से में श्रीसंत को थप्पड़ मार दिया था। जिसके बाद श्रीसंत को अपने साथियों के साथ मैदान पर रोते हुए भी देखा गया। जिसके बाद बीसीसीआई में हाथापाई के एक्शन में हरभजन को बाकी बचे टूर्नामेंट में खेलने से बैन कर दिया गया और शॉन पोलक ने मुंबई इंडियंस टीम में उनकी की कप्तानी संभाली। लेकिन समय बीतने के साथ दोनों खिलाड़ियों के बीच रिश्ते ठीक हुए और ये दोनों 2007 टी20 विश्व कप के बाद 2011 वनडे विश्व कप टीम का हिस्सा रहकर एक साथ खेले थे।

Also Read : धोनी की जगह युवराज की कप्तानी पर बोले हरभजन, कहा- ‘अगर युवराज सिंह टीम इंडिया के कप्तान होते तो मेरा करियर और…’

हरभजन सिंह ने कहा मेरी गलती थी, मैं माफी मांगने के लिए तैयार

हरभजन सिंह ने आईपीएल में स्लैप गेट विवाद के पहचाने जाने वाले इस थप्पड़ विवाद को मानते हुए कहा कि उन्होंने गलती की थी। हरभजन सिंह ने कहा इस घटना ने उन्हें शर्मिंदा कर दिया था। हरभजन ने माना और कहा,

“जो हुआ वह गलत था। उसमें मैंने गलती की थी। मेरी वजह से मेरी टीम के सभी साथियों को भी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा। मैं इसके लिए बहुत शर्मिंदा हूं। अगर जीवन में मुझे एक गलती सुधारनी पड़ी। तब श्रीसंत के साथ जो बर्ताव किया। वो नहीं होना चाहिए था। जब मैं इसके बारे में सोचता हूं तो मुझे लगता है कि इसकी कोई जरूरत नहीं थी”।

श्रीसंत ने कहा हमने डिनर किया और सचिन तेंदुलकर के कारण सब ठीक हो गया

श्रीसंत ने इस विवाद अपना पक्ष बताते हुए कहा कि ” बाद में वो सब ठीक हो गया था और सचिन पाजी (सचिन तेंदुलकर) को इसके लिए धन्यवाद। उन्होंने कहा आप लोग एक ही टीम में खेलते हैं, मैंने कहा बिल्कुल ठीक है, मैं जाकर उनसे मिलूंगा। हम ( हरभजन सिंह) उसी रात मिले और डिनर किया। लेकिन बाद में मीडिया इसे अगले ही लेवल पर ले गया”।

Also Read : IPL 2022 से पहले MS Dhoni ने जर्सी नंबर 7 का खोला राज, कहा ये अंधविश्वास नहीं