"5 क्या अगर बाबर पूरी टीम बाउंड्री पर लगा देता मै तब भी मारता"
"5 क्या अगर बाबर पूरी टीम बाउंड्री पर लगा देता मै तब भी मारता""5 क्या अगर बाबर पूरी टीम बाउंड्री पर लगा देता मै तब भी मारता"

भारत बनाम पाकिस्तान (Ind Vs Pak) के बीच एशिया कप (Asia Cup 2022) के मैच में हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने छक्का लगाकर मैच जिताया। मैच के बाद हार्दिक पांड्या ने कहा कि अगर 10 फील्डर भी होते तब भी मुझे फर्क नहीं पड़ता क्योंकि मुझे तो मारना ही था। साथ ही खिलाड़ी ने पिछले एशिया कप से इस एशिया कप तक की अपनी कहानी बताई।

हार्दिक पांड्या ( Hardik Pandya) और रविंद्र जडेजा ( Ravindra Jadeja) के बीच हुई साझेदारी से टीम इंडिया ने मैच जीता। मैच के बाद दोनों प्लेयर ने बैठकर पूरी कहानी बताई। उनके इस वीडियो को बीसीसीआई ने शेयर किया और साथ ही इस वीडियो को काफी पसंद भी किया जा रहा है। हार्दिक पांड्या ने चार ओवर में 25 देकर तीन विकेट लिए और 17 गेंद 33 नाबाद रन बनाए। साथ ही रविंद्र जडेजा ने 29 गेंद पर 35 रन बनाए।

हार्दिक और जडेजा ने बताई अपनी रणनीति

Hardik Pandya ने Ravindra Jadeja से पूछा

“जड्डू बताइये, आपका बैटिंग ऑर्डर थोड़ा अलग था। परिस्थितियां अलग थीं और जाके जैसे आपने लेफ्ट आर्म स्पिनर पर मौके लिए, वह बहुत अहम था, क्योंकि हमारे पास बाकी राइट हैंडर्स बल्लेबाज थे, आप अपने माइंडसेट के बारे में बताइये”?

Also Read : ASIA CUP 2022, IND vs PAK: सूर्यकुमार यादव के आउट होने के बाद मैदान पर आते ही हार्दिक पंड्या ने रविंद्र जडेजा से कही थी ये बात, मैच के बाद जड्डू ने बताई क्या हुई थी बातचीत

जिसका जवाब Ravindra Jadeja ने दिया और कहा

“यह बहुत अहम था, क्योंकि जो मुझे बैटिंग ऑर्डर में प्रमोट किया था। तो मैं यही सोच रहा था कि स्पिनर्स पर जितना हो सके। उतना चांस लूं, जितने भी शॉट्स खेलूंगा तो मैं बड़ा शॉट मारने को देखूंगा, हमारा पार्टनरशिप भी बहुत अहम था। जो हमने बीच में बात की अपना स्ट्रेंथ बैक करेंगे”।

Hardik Pandya ने Ravindra Jadeja से फिर कहा कि

“जड्डू और मैं काफी सालों से साथ क्रिकेट खेल रहे हैं। टीम इंडिया को हमेशा से टॉप आर्डर बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है, लेकिन हम खुशनसीब हैं कि अब हमें मौका मिल रहा है और हम टीम के लिए कुछ कर पा रहे हैं। क्योंकि हमारा प्रोसेस सिर्फ इसके लिए नहीं है, वर्ल्ड कप आने वाला है और जितनी बार हमें मौका मिल सके। अगर फ्यूचर में इस तरह की परिस्थिति फिर से सामने आई, तो हमें यह मैच याद रहेगा”।

जिसपर Ravindra Jadeja ने हामी भरते हुए Hardik Pandya से कहा

“अच्छा मुझे ये बताओ कि पिछली बार 2018 में एशिया कप था, पाकिस्तान के खिलाफ मैच में आपको पीठ में दर्द हुआ था, अब आप भगवान की दया से सब ठीक है और बढ़िया जा रहा है। एशिया कप 2018 से वहीं पाकिस्तान टीम के खिलाफ मैच से लेकर इस मैच तक का सफर कैसा रहा?”

5 क्या अगर बाबर की पूरी टीम भी बाउंड्री पर होती तो भी मै मरता

Hardik Pandya ने इस बात के सफर को बताते हुए कहा

“सच बताऊं तो मुझे सब याद आ रहा था। मैं यहां से स्ट्रेचर पर बाहर गया था और वही ड्रेसिंग रूम था। ऐसे में ऐसा लगता है कि आपने कुछ हासिल किया है। क्योंकि जिस तरह से चीजें हुईं, उसके बाद इस तरह से मौका मिलना और टीम को जिताना। तो यह सफर बहुत सुंदर है। तो इस सफर का फल हमें मिलता है लेकिन बिहाइंड द सीन सोहम देसाई और नितिन पटेल को मैं अपने कमबैक का क्रेडिट देना चाहूंगा”।

जिसके बाद Ravindra Jadeja ने Hardik Pandya से अंतिम ओवर में छक्का लगाने के विषय में सवाल करते हुए पूछा

“आखिरी ओवर में आपके दिमाग में क्या चल रहा था, क्योंकि मैं आउट हो गया था। हमने पहले ही बात की थी कि पहली गेंद पर छक्का मारेंगे, तो मैंच वहीं खत्म हो जाएगा। आप क्या सोच रहे थे”।

जिसपर Hardik Pandya ने मुस्कुराते हुए कहा

“सात रन मुझे कुछ ज्यादा बड़े लग नहीं रहे थे क्योंकि लेफ्ट आर्म स्पिनर है और पांच फील्डर सर्कल के बाहर हैं, उससे मुझे कुछ फर्क नहीं पड़ता, अगर पांच क्या 10 फील्डर भी बाहर होते, तो मुझे तो मारना ही था। पूरे इनिंग में मैं एक ही बार थोड़ा इमोशन्स में दिखा, जब आप आउट हुए, दिमाग में सच बताऊं तो प्रेशर नहीं था। क्योंकि मेरे हिसाब से गेंदबाज को ज्यादा प्रेशर था। तो मैं इंतजार कर रहा था कि वह कोई गलती करे”।

Also Read : ASIA CUP 2022, IND vs PAK, Match Report: हार्दिक पंड्या ने छक्का जड़ पाकिस्तान को चटाई धुल, टीम इंडिया ने लिया टी20 विश्व कप हार का बदला, बाबर आजम की निकाली हेकड़ी