ROHIT SHARMA PRESS

भारतीय क्रिकेट टीम ( Indian Cricket Team) और दक्षिण अफ्रीका टीम के बीच आईसीसी टी20 विश्व कप 2022 के सुपर 12 का मैच पर्थ स्टेडियम में रविवार को खेला गया। इस मैच में भारतीय क्रिकेट टीम को 5 विकेट से करारी हार का मुंह देखना पड़ा था। इस हार के बाद कप्तान रोहित शर्मा मैच प्रजेंटेशन में प्रेस से रूबरू हुए और उन्होंने पिच से लेकर हार तक की बातचीत की। हार के बाद भारतीय कप्तान ने कैसे-कैसे बहाने बनाए आइये देखते हैं।

हार के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने कुछ ऐसे बनाए बहाने

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा ( Rohit Sharma) ने मैच में हार के बाद कहा कि

“हमें उम्मीद थी कि पिच में कुछ होगा। हम जानते थे कि तेज गेंदबाजों को काफी मदद मिलेगी, इसलिए लक्ष्य का पीछा करना आसान नहीं था। हम बल्ले से थोड़े कम हो गए। हमने अच्छी लड़ाई लड़ी, लेकिन आज साउथ अफ्रीका बेहतर था। जब आप वह स्कोर (10 में 40/3) देखते हैं, तो आप हमेशा सोचेंगे कि आप खेल में हैं। यह मार्कराम और मिलर की मैच विनिंग पार्टनरशिप थी। हम मैदान में थोड़े गरीब थे, हमने इतने मौके दिए और हम नैदानिक ​​नहीं थे। हम बस काफी अच्छे नहीं थे”।

खुद की गलती छिपाते हुए पॉजिटिव रहने की कही बात

हार के बाद मैच प्रजेंटेशन में कप्तान रोहित शर्मा ने पिछले दो मैच में मैदान पर फील्डिंग के बारे में बात करते हुए कहा कि इस मैच में कुछ चूक काफी भारी पड़ी। रोहित शर्मा ने कहा

“पिछले दो मैचों में हम मैदान में काफी अच्छे थे। हम अपने मौके नहीं रोक सके, हम कुछ रन आउट से चूक गए। हमें अपना सिर ऊंचा रखने की जरूरत है और इस खेल से सीख लेने की जरूरत है”।

Also Read : नाम बड़े और दर्शन छोटे, टी20 विश्व कप में अब तक अपनी टीम पर बोझ बने हुए हैं ये 4 खिलाड़ी, नही निकल रहे रन

डेविड मिलर और मार्करम की किया तारीफ

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने आगे अपनी बातचीत में कहा कि

“मैंने देखा है कि आखिरी ओवर में स्पिनरों के साथ क्या होता है, इसलिए मैं दूसरे रास्ते पर जाना चाहता था। अगर मैं ऐश को खत्म कर सकता हूं, तो मैं सिर्फ यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि तेज गेंदबाज सही ओवर फेंक रहे हैं। आपको इसे किसी बिंदु पर उपयोग करना होगा। नए बल्लेबाज के साथ, उनके लिए गेंदबाजी करने का यह सही समय था। मिलर ने कुछ अच्छे शॉट भी खेले”।

Also Read : डेल स्टेन ने चुने टी20 विश्व कप के 5 सबसे बेस्ट गेंदबाज, भारत के किसी खिलाड़ी को नहीं दी जगह