KL RAHUL AND VIRAT KOHLI

बांग्लादेश के खिलाफ मैच से पहले विराट कोहली ने एकदिवसीय फाॅर्मेट में 47 शतक जड़े थे. इन 47 शतकों के दौरान ऐसा कभी नही लगा था कि विराट अपने शतक के लिए खेल रहे हैं. विराट के लिए व्यक्तिगत माइलस्टोन से ज्यादा मायने टीम की जीत रहती है.

हालांकि बांग्लादेश के खिलाफ जब यह तय हो गया था कि भारत इस मैच को बड़े आसानी से चेज कर लेगी तब विराट ने खुलकर अपना शतक बनाया. इस शतक में केएल राहुल ने विराट कोहली की मदद की. केएल राहुल ने बताया कि बीच ग्राउंड में दोनों बल्लेबाजों के बीच क्या बात हो रही थी.

लोग सोचेंगे मैं व्यक्तिगत रिकाॅर्ड के लिए खेल रहा~ विराट कोहली

केएल राहुल ने कहा,

‘जब 30 रनों की जरूरत थी, तो मैंने विराट से कहा कि मैं सिर्फ ब्लॉक करूंगा, तुम शॉट्स के लिए जाओ. अंत में, विराट ने मुझसे कहा कि उन्होंने अपने आराम के लिए इसे बहुत करीब कर दिया है. मैंने सिंगल लेने से इनकार कर दिया. विराट ने कहा कि अगर आप सिंगल नहीं लेंगे तो यह बुरा होगा, लोग सोचेंगे कि मैं व्यक्तिगत उपलब्धि के लिए मैं खेल रहा हूं, लेकिन मैंने उन्‍हें कहा कि हम आराम से जीत रहे हैं. आप अपना शतक पूरा करें.’

कुछ दिन पहले केएल राहुल शतक से चूके थे

विश्व कप के पहले मैच में केएल राहुल 91 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे. मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ थी और भारत को जीत के लिए पांच रन की आवश्यकता थी.

केएल राहुल ने पहले चौका मारना चाहा, जिसे वह 95 पर पहुंचते और एक रन बचता तो वह छक्का लगाकर अपना शतक भी पूरा कर लेते. लेकिन गेंद को बेहतर टाइम कर देने की वजह से केएल राहुल ने चौक के जगह छक्का लगा दिया. जिससे केएल राहुल का शतक पूरा नहीं हो पाया.

हालांकि इससे 10 दिन बाद जब ऐसा ही कुछ विराट कोहली के साथ हुआ, तो केएल राहुल ने विराट कोहली का शतक पूरा करने के लिए पूरी कोशिश की. केएल राहुल के इस व्यवहार पर लोगों ने कहा,

‘जिनके अपने सपने पूरे नही होते वही दूसरो के सपने पूरे करते हैं.’

ALSO READ: न्यूजीलैंड की खैर नहीं, हार्दिक पांड्या की जगह विस्फोटक खिलाड़ी की टीम इंडिया में हुई एंट्री! अंतिम 10 ओवर में बदल देता है मैच का रुख