SANJU SAMSON 100

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज का कल रात अंतिम मुकाबला पार्ल में खेला गया. जहां टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने उतरी साउथ अफ्रीका टीम ने भारतीय टीम को 8 विकेट के नुकसान पर निर्धारित 50 ओवर में 296 रनों पर रोक दिया. जवाब में भारतीय टीम ने साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों की कलई खोल दिया और पूरी टीम को 45.5 ओवर में ही पवेलियन की राह दिखा दिया और मैच को 78 रनों से अपने नाम कर लिया.

संजू सैमसन की शतकीय पारी से जीता भारत

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच पार्ल में आयोजित निर्णायक मुकाबले में संजू सैमसन का बल्ला चला. सैमसन ने 110 गेंद का सामना करते हुए अपना पहला अंतरराष्ट्रीय शतक जड़ा.

संजू सैमसन ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय शतक जड़ने के लिए 8 साल का लंबा इंतजार किया. शतक जड़ने के बाद संजू सैमसन वे कहा कि यह उनके लिए काफी भावुक कर देने वाला पल है.

संजू सैमसन ने संभलकर खेलते हुए पहले केएल राहुल (21) के साथ टीम का स्कोर बोर्ड आगे बढ़ाया. इसके बाद तिलक वर्मा (52) के साथ 136 गेंद पर 116 रन की साझेदारी की.

संजू सैमसन ने धैर्य का परिचय देते हुए 110 गेंद पर अपना पहला अंतरराष्ट्रीय शतक जड़ा. वह 114 गेंद पर 108 रन बनाकर आउट हुए. अपनी इस पारी के दौरान सैमसन ने 6 चौके और 3 छक्के जड़े.

मैच के बाद संजू सैमसन ने इन्हें दिया जीत का श्रेय

मैच के साथ सीरीज जीतने के बाद संजू सैमसन ने इस पल को बेहद ही भावुक पल बताया. संजू सैमसन ने कहा कि

“अपना पहला शतक बना कर काफी अच्छा लग रहा है. यह मेरे लिए थोड़ा इमोशनल मोमेंट है. मैं पिछले कुछ समय से अपने फिटनेस और मानसिक स्वास्थ्य पर काफी काम किया है. पिच पर गेंद पहले पहल ठीक से बैट पर आ रही थी, लेकिन जैसे ही गेंद पुरानी हुई, पिच काफी धीमी हो गई. इस पिच पर यह कहीं से भी आसान स्कोर नहीं है.”

ALSO READ: “हम भारत को टेस्ट सीरीज के दौरान….” 1-2 से वनडे सीरीज हारने के बाद साउथ अफ्रीकन कप्तान एडेन मार्करम ने इस खिलाड़ी को लगाई फटकार