Mohammed Siraj ने किया खुलासा, बताया क्यों मेलबर्न टेस्ट में आंखो से निकलने लगे थे आंसू
Mohammed Siraj ने किया खुलासा, बताया क्यों मेलबर्न टेस्ट में आंखो से निकलने लगे थे आंसू

मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj) भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के घातक गेंदबाजों में से एक हैं। वह टीम के एक अहम हिस्सा बन चुके हैं और यह उन्होंने 2020 में ऑस्ट्रेलिया (Australia Cricket Team) में ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीत में साबित कर दिया था, जब उनका us समय टीम में डेब्यू हुआ था। 

लेकिन नवंबर 2020 भारत के युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) के लिए काफी उतार-चढ़ाव भरा साल था। दिसंबर में उन्हें भारतीय टीम में पहली बार खेलने का मौका मिला था। ऑस्ट्रेलिया दौरे (Australia Tour Of India) पर पहुंचने के कुछ ही दिन बाद उनके पिता का देहांत हो गया था और कोविड-19 के सख्त प्रोटोकॉल के दौर में वह अपने पिता की अंतिम यात्रा में शामिल नहीं हो पाए। 

इस कारण आंखो में आए आंसू

इसके बाद मेलबर्न टेस्ट में उन्हें मौका मिला तो वह राष्ट्रगान के समय भावुक हो गए। सिराज ने बताया कि वह उस पल अपने पिता को याद कर रहे थे। मोहम्मद सिराज (Mohammed Sira) ने ऑस्ट्रेलिया दौरे को याद करते हुए कहा, 

“उस समय कोविड-19 प्रोटोकॉल सख्ती से लागू था। हमें क्वॉरंटीन में रहना पड़ा। जब हमारी प्रैक्टिस हुई, तो मुझे पिताजी की मृत्यु के बारे में पता चला। मेरी मां ने उस दौरान मुझे मजबूत बनाया। उन्होंने मुझसे कहा कि अपने पिताजी के सपने को पूरा करो और देश का नाम रोशन करो। यही मेरी एकमात्र प्रेरणा थी। मुझे यह भी नहीं पता था कि मुझे खेलने का मौका मिलेगा या नहीं, क्योंकि टीम में वरिष्ठ गेंदबाज मौजूद थे।”

सिराज ने आगे कहा,

“यह मेरे लिए वास्तव में कठिन समय था। मेरे पिताजी आईपीएल के दौरान भी बीमार थे, लेकिन परिवार के सदस्यों ने मुझे यह नहीं बताया था कि मामला गंभीर है। मुझे उनकी स्थिति के बारे में तब पता चला जब मैं ऑस्ट्रेलिया में सीरीज खेलने के लिए गया था।”

सिराज का सीरीज जीतने में था अमूल्य योगदान

उस ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज में भारत ने 2-1 से जीत दर्ज की थी। मेलबर्न टेस्ट में सिराज का एक यादगार डेब्यू था, क्योंकि उन्होंने दूसरी पारी में 3/37 विकेट लिए थे और इससे भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 8 विकेट से जीत दिलाने में मदद की।

उस सीरीज में तेज गेंदबाज सिराज ने 13 विकेट लिए थे, जिनमें गाबा में लिए गए पांच विकेट भी शामिल हैं। सिराज तीन मैचों में सीरीज के तीसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में उभरे थे, जिसमें केवल पैट कमिंस और तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड भारतीय गेंदबाज से आगे रहे थे।