केन विलियमसन
केन विलियमसन

आईपीएल के लीग मैच की गिनती अब अपने अंतिम पड़ाव पर है। जल्द ही आईपीएल के लीग मैच खेले जाने लगेंगे। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2022) का अंतिम लीग मैच सनराइजर्स हैदराबाद (SunRisers Hyderabad) और पंजाब किंग्स ( Punjab Kings) के बीच खेला जाना है। हालांकि इस मैच में दोनों ही टीम प्ले ऑफ के लिए अभी क्वालीफाई करती नजर नहीं आ रहीं हैं। लेकिन ऑरेंज आर्मी के लिए एक समस्या जरूर सामने आ गई है। दरअसल टीम के कप्तान केन विलियमसन ( Kane Williamson) अपने दूसरे बच्चे के जन्म के समय अपने परिवार के साथ होना चाहते थे। इसलिए वो मुंबई इंडियंस के मैच के बाद अपने घर वापस लौट गए हैं। अब ऐसे में अंतिम मैच में कप्तानी कौन करेगा? इसका जवाब ये 3 खिलाड़ी हो सकते हैं…

1- भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar)

भुवनेश्वर कुमार

सनराइजर्स हैदराबाद के लिए कप्तानी की जिम्मेदारी के लिए सबसे पहला नाम भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) का आता है। इसके पीछे मुख्य वजह है कि वो पहले भी केन विलियमसन की गैरमौजूदगी में टीम की कमान को संभाल चुके हैं। भुवनेश्वर कुमार, सनराइजर्स हैदराबाद की कप्तानी संभाला चुके हैं। साथ ही जब शिखर धवन की कप्तानी में भारतीय टीम ने श्री लंका का दौरा किया था तब भी वो टीम के उपकप्तान थे। उनके पास भारतीय टीम में खेलने के साथ साथ 140 आईपीएल मैच खेलने का अनुभव भी है। इसलिए खिलाड़ी को टीम का कप्तान बनाए जाने के विषय में विचार किया जा सकता है।

2- निकोलस पूरन ( Nicholas Pooran)

निकोलस पूरन

केन विलियमसन के स्थान पर निकोलस पूरन ( Nicholas Pooran) को भी कैप्टन बनाने के विषय में सोचा जा सकता है। हाल ही में 26 साल के निकोलस पूरन ( Nicholas Pooran) को वेस्टइंडीज टीम का कप्तान बनाया गया है। वो सनराइजर्स हैदराबाद की तरफ से 12 मैच में अब तक 301 रन बना चुके हैं, जिसमें 64 उनका बेस्ट स्कोर भी है। इसलिए खिलाड़ी को टीम का कप्तान बनाए जाने के विषय में विचार किया जा सकता है।

ALSO READ:IPL 2022: सौरव गांगुली ने बताया उन 2 खिलाड़ियों का नाम जिन्हें आईपीएल बाद मिलेगा भारतीय टीम में डेब्यू का मौका

3- एडेन मार्करम ( Aiden Markram)

aiden markram

सनराइजर्स हैदराबाद के पास एडेन मार्करम ( Aiden Markram) के रूप में भी एक विकल्प मौजूद है। वो 2018 में फाफ डु प्लेसिस की जगह दक्षिण अफ्रीका टीम की कप्तानी संभाल चुके हैं। साथ ही 2014 में अंडर 19 टीम के कैप्टन भी रह चुके हैं। अभी तक वो 13 मैच में 360 रन बना चुके हैं, जिसमें 68 उनका बेस्ट स्कोर है। इसलिए खिलाड़ी को टीम का कप्तान बनाए जाने के विषय में विचार किया जा सकता है।

ALSO READ: इन 3 भारतीय खिलाड़ियों को कर देना चाहिए अब संन्यास का ऐलान, चयनकर्ता नहीं देंगे अब किसी भी फ़ॉर्मेट में मौका