ben stokes post match ind vs eng
बेन स्टोक्स

यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) के शानदार दोहरे शतक के बाद रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) की अगुवाई में स्पिनरों के घातक प्रदर्शन से भारत (Team India) ने इंग्लैंड (England Cricket Team) को तीसरे टेस्ट के चौथे दिन रविवार को 434 रन से हराकर रनों के लिहाज से अपनी सबसे बड़ी जीत दर्ज की। इस तरह से पांच मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली।

भारत (Indian Cricket Team) ने अपनी दूसरी पारी 98 ओवर में 430/4 पर घोषित करने के बाद इंग्लैंड को तीसरा टेस्ट जीतने के लिए 557 रनों का विशाल लक्ष्य दिया और मेहमान टीम की पारी को 122 रन पर समेट दिया।

शर्म से झूका Ben Stokes का चेहरा

यह इंग्लैंड की दूसरी सबसे बड़ी हार है, जबकि बेन स्टोक्स (Ben Stokes) की कप्तानी में सबसे बड़ी हार है। इस के बाद जब वह प्रेजेंटेशन के लिए पोडियम पर पहुंचे तो उनका चेहरा शर्म झुका हुआ था। उनसे हार के बारे में पूछा गया तो उन्होंने एक-दो नहीं, बल्कि पूरी टीम पर ही धावा बोल दिया। बेन स्टोक्स (Ben Stokes) ने आगे कहा कि

“बेन डकेट ने जबरदस्त पारी खेली। वह चाहते थे कि हम ड्राइविंग सीट पर रहें, लेकिन कभी-कभी प्लान काम नहीं करता है। हम भारत की पारी कल ही खत्म करना चाहते थे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं।”

बेन स्टोक्स (Ben Stokes) ने भारत की पहली पारी में 445 और दूसरी पारी में 4 विकेट पर घोषित 430 रन के दौरान हुईं इंग्लिश गेंदबाजों की गलतियों पर चर्चा करते हुए कहा कि

“अब गलतियों को पहचानकर ठीक करने की जरूरत है। कभी-कभी गेमप्लान काम नहीं करते और यही स्थिति हमारे साथ थी। चीजों के बारे में हर किसी की एक धारणा और राय होती है, ड्रेसिंग रूम में मौजूद लोग ही हमारे लिए मायने रखते हैं।”

अगले दोनों मैच जीतेगा इंग्लैंड: Ben Stokes

बेन स्टोक्स (Ben Stokes) ने आगे कहा-

“सीरीज में 1-2 से पिछड़ने के बाद हमारे पास वापसी करने और सीरीज जीतने का शानदार मौका है। हम इस खेल को पीछे छोड़कर वापसी की कोशिश करेंगे। हम जानते हैं कि सीरीज जीतने के लिए हमें अगले 2 गेम जीतने होंगे और हम यही करना चाहेंगे।”

यह मैच यशस्‍वी जायसवाल के दोहरे शतक, रोहित शर्मा और रविंद्र जडेजा के शतक (फाइव विकेट हॉल भी), सिराज के पहली पारी के बेहतरीन स्‍पेल और जडेजा के पांच विकेटों और सरफराज खान के जोरदार डेब्‍यू के लिए जाना जाएगा।

जडेजा के अलावा कुलदीप यादव ने दो, जबकि जसप्रीत बुमराह और रविचंद्रन अश्विन ने एक-एक विकेट लिया। जडेजा को उनके हरफनमौला प्रदर्शन (112, 2/51 और 5/41) के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। इंग्लैंड की बैजबाल शैली भारतीय गेंदबाजों के सामने फिर ढेर रही।