Rohit Sharma post match ind vs eng
रोहित शर्मा

Rohit Sharma Post Match Ind vs Eng: भारत और इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच आज राजकोट में खत्म हुआ. भारतीय टीम (Team India) ने इस मैच के चौथे दिन ही इंग्लैंड को 434 रनों से हराकर मैच अपने नाम किया. भारत की जीत में यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) और रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) की बड़ी भूमिका रही, लेकिन भारत (Indian Cricket Team) को जीत मिली कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की वजह से. भारतीय कप्तान रोहित शर्मा की चाल में अंग्रेज ऐसे फंसे की निकल ही नहीं सके.

कप्तान Rohit Sharma ने अपने खिलाड़ियों के तारीफों के बांधे पूल

यशस्वी जायसवाल ने टीम इंडिया के लिए दूसरी पारी में 214 रन का स्कोर खड़ा किया. वहीं जडेजा ने दोनों पारियों को मिलाकर कुल 7 विकेट लिए और 112 रन भी बनाए. मैच के बाद भारतीय कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने अपने खिलाड़ियों की तारीफ़ करते हुए कहा कि

“जब आप टेस्‍ट क्रिकेट खेलते हो तो आप दो या तीन दिन का नहीं पांच दिन का सोचते हैं. हमने अच्‍छे शॉट खेले और उनको दबाव में रखा. हमारी गेंदबाजी में दम हैं, मैंने बस टीम को संयम के लिए कहा और यह प्रदर्शन देखकर मजा आया.”

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने आगे कहा,

“तीन विकेट गिरने पर हमारे पास कई अनुभवी खिलाड़ी हैं, जो वापसी करा सकते थे. दायें और बायें हाथ के बल्लेबाज थे. सरफराज खान के बारे में सभी जानते हैं वह किस स्‍तर का खिलाड़ी है, जो भी टेस्ट के हिसाब से और विरोधी टीम के गेंदबाजी संयोजन होगा उसी तरह से हमारा टीम संतुलन भी होगा.”

कप्तान Rohit Sharma के इस चाल में फंसे बेन स्टोक्स और ब्रेंडन मैकुलम

टॉस को लेकर भारतीय कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कहा,

“टॉस जीतना अच्छा रहा, क्योंकि हम जानते हैं भारत में टॉस जीतना और बड़ा स्कोर बनाना कितना अहम है. जब इंग्लिश बल्लेबाज मार रहे थे, तो मैंने संयम रखने को कहा, गेंदबाजी आक्रमण पर मुझे गर्व है. दो युवा बल्लेबाजों की साझेदारी बहुत अहम थी हम एक बड़े स्कोर तक पहुंच पाए, बाद में जडेजा ने अच्छा किया. मैं यशस्वी के बारे में अधिक कुछ नहीं कहना चाहूंगा, मैं बस चाहता हूं जो वह कर रहा है वह करता रहे.”

रोहित शर्मा ने सबसे बड़ी चाल उस समय चली जब भारतीय टीम के 3 विकेट जल्दी गिर गये थे. कप्तान रोहित शर्मा ने सरफराज खान और ध्रुव जुरेल को रोककर रविंद्र जडेजा को बल्लेबाजी के लिए बुलाया और रविंद्र जडेजा ने इस पोजीशन पर आकर न विकेट रोका बल्कि शतक भी ठोक दिया.

इसके बाद दूसरी पारी में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने यशस्वी जायसवाल को खुलकर खेलने दिया और इसके बाद सरफराज खान को भी बैजबाल स्टाइल में बल्लेबाजी करने के लिए कहा. इन दोनों खिलाड़ियों ने पूरा मैच बदलकर रख दिया और भारतीय टीम ने इतना बड़ा स्कोर खड़ा कर दिया कि इंग्लैंड की टीम घुटने पर आ गई और सिर्फ 122 रनों पर आलआउट हो गई.

ALSO READ:434 रनों से मिली शर्मनाक हार के बाद मिमियाने लगे Ben Stokes, झुके कंधे और मायूस चेहरे के साथ इन्हें माना हार का जिम्मेदार