ROHIT SHARMA BCCI MEETINGS

भारत की मेजबानी में खेले गए वनडे विश्व कप 2023 का अंत ऑस्ट्रेलिया की जीत के साथ हो गया। 19 नवंबर को पैट कमिंस की अगुवाई वाली टीम ने रोहित शर्मा की सेना को 6 विकेट से मात देकर ऐतिहासिक जीत दर्ज की। ऑस्ट्रेलिया ने छठवीं बार इस खिताब पर कब्जा जमाया।

वहीं, भारत 2003 के बदले को लेने में नाकाम रहा। टीम इंडिया को मिली इस हार के बाद अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने रोहित शर्मा को बुलावा भेजा है।

बीसीसीआई से आया रोहित शर्मा को बुलावा

बताया जा रहा है कि बीसीसीआई की इस मीटिंग में रोहित शर्मा के अलावा सेलेक्शन कमेटी के चेयरमैन और टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ समेत कई अन्य अधिकारी शामिल होंगे।

इस मीटिंग में टीम इंडिया की हार के अलावा रोहित शर्मा की कैंप्टेंसी पर भी चर्चा होगी। कयास लगाए जा रहे हैं कि बोर्ड लिमिटेड ओवर क्रिकेट में टीम इंडिया की कैप्टेंसी में बदलाव कर सकता है।

फाइनल मैच में मिली भारत को करारी शिकस्त

बता दें कि वनडे विश्व कप 2023 में टीम इंडिया ने लगातार 10 मैचों में जीत के साथ फाइनल में जगह बनाई थी। भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में शानदार जीत हासिल की थी। इसके बाद 19 नवंबर, रविवार को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इस टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला खेला गया था।

इस मैच में दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली थी। लेकिन भारतीय टीम पर हार का डर हावी हो गया और ये मैच भारतीय खिलाड़ियों के हाथ से निकल गया।

अब बीसीसीआई रोहित शर्मा को लेकर बड़ा फैसला ले सकती है। दरअसल, टी20 विश्व कप 2022 में मिली शिकस्त के बाद से हिटमैन को टी20 सीरीज में कप्तानी करते नहीं देखा गया है।

इसके अलावा कई मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी दावा किया गया है कि उन्हें रोहित शर्मा ने बोर्ड से टी20 टीम में उनके नाम पर विचार नहीं किए जाने पर आपत्ति नहीं जताने की बात कही है।

एक सूत्र द्वारा दिए गए बयान के अनुसार,

“विश्व कप से पहले, रोहित ने सूचित किया था कि टी20 इंटरनेशनल के लिए उनके नाम पर विचार नहीं किए जाने पर उन्हें कोई आपत्ति नहीं है।”

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप से पहले बदल जाएगा कप्तान?

गौरतलब है कि टीम इंडिया 2025 में विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में खेलती नज़र आएगी। इससे पहले 2024 में भारत को सिर्फ 6 वनडे मैच खेलने हैं। ऐसे में बीसीसीआई प्रस्तावित मीटिंग में रोहित शर्मा की कैप्टेंसी पर बड़ा फैसला हो सकता है।

सूत्र के अनुसार,

“फिलहाल ऐसा लगता है कि रोहित विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के अगले चक्र के लिए अपनी बहुत सारी ऊर्जा टेस्ट प्रारूप पर केंद्रित करेंगे जो 2025 तक चलेगा। लंबे प्रारूपों के लिए एक कप्तान को तैयार करना एजेंडे का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। हार्दिक पंड्या के चोटिल होने की संभावना को देखते हुए चयनकर्ता वनडे में विकल्प तलाश सकते हैं।”

ALSO READ: IND vs AUS: पहले टी20 मैच के लिए भारतीय टीम में हुए 8 बड़े बदलाव, इन 11 खिलाड़ियों के साथ उतरेंगे कप्तान सूर्यकुमार यादव