भानुका राजपक्षे ने खोला राज कहा ड्रिंक ब्रेक में कोच सिल्वरवुड ने कह दी थी ये बात जिसके बाद पाकिस्तान को हराना जरूरी हो गया था
भानुका राजपक्षे ने खोला राज कहा ड्रिंक ब्रेक में कोच सिल्वरवुड ने कह दी थी ये बात जिसके बाद पाकिस्तान को हराना जरूरी हो गया था

श्रीलंका ने भानुका राजपक्षे और वानिंदु हसरंगा की बदौलत Asia Cup 2022 के फाइनल में पाकिस्तान को 23 रन से हराकर छठी बार एशिया कप खिताब अपने नाम कर लिया है। खिताबी मुकाबले में श्रीलंका ने पाकिस्तान को 171 रन का लक्ष्य दिया था। पाकिस्तान की टीम 147 रन पर ढेर हो गई। इस तरह पाकिस्तान का एक दशक से चले रहे आ रहे एशिया कप खिताब का सूखा जस का तस बना रहा।

भानुका राजपक्षे की तूफानी पारी

भानुका राजपक्षे के नाबाद 71 रन के दम पर श्रीलंका ने एशिया कप फाइनल में पाकिस्तान के सामने 171 रनों का लक्ष्य रखा था। श्रीलंका ने 20 ओवर में 6 विकेट पर 170 रन बनाए। खिताबी मुकाबला दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेला गया। पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला किया।

एशिया कप का आयोजन पहले श्रीलंका में ही होना था, लेकिन सुरक्षा की वजह से इसे यूएई में कराया गया. हालांकि मेजबान श्रीलंका ही है। मेजबान टीम ने सुपर फोर में पाकिस्तान को पटखनी दी थी। ऐसे में फाइनल में फिर से हराकर श्रीलंका ने कमाल कर दिया। 

ALSO READ: Asia Cup 2022 Prize Money: श्रीलंका, हसरंगा और भानुका राजपक्षे पर हुई पैसे की बरसात, तो पाकिस्तान को भी मिली मोटी रकम, जानिए किसे मिला कितने का प्राइज मनी

भानुका राजपक्षे ने जीता प्लेयर ऑफ द मैच

बल्ले से एक बार फिर भानुका राजपक्षे श्रीलंका के लिए छा गए। उनकी अहम और तूफानी पारी के चलते श्रीलंका को एक मजबूत स्कोर मिला था और उन्होंने प्लेयर ऑफ द मैच भी जीता।

उन्होंने पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में कहा,

“पावरप्ले से बाहर निकलना आसान नहीं था। पाकिस्तान अच्छी गेंदबाजी कर रहा था। जब वानिंदु आए, तो हमें एक योजना मिली। हम हर समय सकारात्मक रहना चाहते थे। जब इफ्तिखार गेंदबाजी कर रहे थे तो वनिन्दु ने कहा कि वह उन पर आक्रमण करेंगे। लेकिन शुक्र है कि हम दोनों ने टीम को मुश्किल से निकाला। मुझे अपना खेल बदलना पड़ा क्योंकि पाकिस्तानी शीर्ष पर थे। हम कुछ समय क्रीज पर बिताना चाहते थे और इससे 170 रन बनाने में मदद मिली। 10वें ओवर के बाद जब क्रिस (सिल्वरवुड) हमसे बात करने आए तो मैंने उनसे कहा कि 140 अच्छा स्कोर है। लेकिन हम अंत तक बने रहे और लक्ष्य काफी अलग था। आखिरी गेंद पर छक्का और आखिरी ओवर ने हमें गति देने में मदद की और यह गति का खेल है।”

ALSO READ: Asia Cup 2022: वानिंदु हसारंगा ने बताया 60/5 पर बल्लेबाजी के लिए पहुंचे तो भानुका राजपक्षे से क्या हुई बात जिसके बाद बजा दी पाकिस्तान की डंका