2022 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले ये 3 खिलाड़ी कोच बनने को हैं तैयार
2022 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले ये 3 खिलाड़ी कोच बनने को हैं तैयार

मौजूदा समय में रिटायरमेंट के बाद एक Cricketer के लिए बहुत सारे विकल्प मौजूद होते हैं। अब खिलाड़ी विभिन्न टी20 लीगों के आने के बाद संन्यास लेते ही कोचिंग की भूमिका अदा करने लग जाते हैं। किसी भी खिलाड़ी के लिए हेड कोच बनना रोमांचक हो सकता है, क्योंकि किसी भी व्यक्ति द्वारा अपनी रणनीतियों को लागू किया जा सकता है, जो उनके खेल कैरियर के दौरान संभव नहीं हो सकता।

इस विभाग में आशीष नेहरा और महेला जयवर्धने को शानदार प्रदर्शन करते देखा गया है, हम ऐसे ही इस आर्टिकल के जरिए क्रिकेटरों के बारे में बताएंगे जो 2022 में रिटायर हुए हैं, और कोच बनने की तैयारी में लगे हुए हैं।

इयोन मोर्गन

क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक इयोन मोर्गन द्वारा अपनी क्षमताओं के साथ सीमित ओवरों के क्रिकेट में इंग्लैंड को विश्व कप का खिताब दिलाया है। अब कोच बनने के लिए वह पूरी तरह से तैयार हैं। हाल ही में वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं, और रिपोर्ट के मुताबिक अनिल कुंबले के पंजाब किंग्स के मुख्य कोच पद से हटने के बाद से मोर्गन को पंजाब किंग्स में मुख्य कोच की भूमिका में देखा जा सकता है।

अपने वनडे करियर के दौरान मोर्गन द्वारा इंग्लैंड के लिए 126 मैच खेले गए, जिसमें से 77 मैचों में इंग्लैंड को जीत मिल सकी, जबकि 40 मैचों के दौरान टीम को हार का सामना करना पड़ा। वहीं मोर्गन द्वारा बतौर कप्तान वनडे की 115 परियों के दौरान 9 शतक और 29अर्धशतक के साथ 4403 रन बनाने में कामयाब रहे।

इसके अतिरिक्त इंग्लैंड के लिए उनके द्वारा 72 टी20 इंटरनेशनल मैचों में कप्तानी की गई, जिसमें टीम को 44 मैचों में जीत मिली तो वहीं 47 मैचों के दौरान इंग्लिश टीम को हार का सामना करना पड़ा। इस दौरान उनके द्वारा 65 पारियों में टीम के लिए कुल 1010 रन बनाए जा सके।

क्रिस मॉरिस

2022 में संन्यास लेने वाले क्रिकेटरों में क्रिस मॉरिस का नाम भी शामिल है, वह कोच बनने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं, इस दक्षिण अफ्रीकी ऑलराउंडर द्वारा 2022 की शुरुआत से ही खेल के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा कर दी गई थी। सेवानिवृत्ति के तुरंत बाद उनके द्वारा घोषणा की गई कि वह दक्षिण अफ्रीका में टाइटंस के साथ एक कोच की भूमिका में नजर आयेंगे।

ALSO READ: पूरे Asia Cup 2022 में बेंच पर ही बैठे नजर आयेंगे ये 3 भारतीय खिलाड़ी, सिर्फ ड्रिंक लेकर दौड़ा रहे हैं रोहित शर्मा

दाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज और बल्लेबाज द्वारा साल 2016 में अपना टेस्ट डेब्यू किया गया था, और सिर्फ चार मैच खेल कर ही वह 12 विकेट हासिल करने में कामयाब रहे। इसके अतिरिक्त उनके द्वारा 42 वनडे में 48 और 23 टी20 में 34 विकेट अपने नाम किए जा सके।

केविन ओ ब्रायन

पिछले कुछ समय से इस आयरिश ऑलराउंडर द्वारा इटली की टीम के साथ कोचिंग की भूमिका निभाई जा रही है। रिटायर ना होने के बावजूद उनके द्वारा पहले ही दिखा दिया गया था, कि उनका अगला कदम कोचिंग ही होगा। अभी हाल ही में उनका रिटायरमेंट हुआ है, और संभवत: भविष्य में अब वह एक स्थाई कोच की भूमिका निभा सकते हैं।

Read Also:-Asia Cup 2022, IND vs PAK: भारत-पाक मैच के दौरान पाकिस्तानी बनकर प्रैंक करना भारतीय फैंस को पड़ा भारी, जेल में डालने की उठी मांग