Smriti Mandhana on rcb mens
स्मृति मंधाना और विराट कोहली

वुमेंस प्रीमियर लीग (WPL) अब अपने अंतिम चरण में पहुंच चूका है, जहां स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) ने हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) की मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) को रोमांचक मैच में मात देकर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है. वुमेंस प्रीमियर लीग (WPL 2024 FINAL) का फाइनल मुकाबला आज रात रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और पिछले बार की उपविजेता रही दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के बीच खेला जाएगा.

आरसीबी के फाइनल में पहुंचने के बाद फैंस उनकी तुलना विराट कोहली (Virat Kohli) की मेंस टीम से कर रहे हैं, जो अब तक आईपीएल के 16 सीजन में 3 बार फाइनल में जगह बना चुकी है, लेकिन अब तक ट्रॉफी नहीं जीत सकी है. हालांकि स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) इस बात से बिलकुल भी खुश नहीं हैं, उन्होंने कहा वो अपनी टीम की तुलना किसी से भी नहीं करना चाहती हैं और न ही फाइनल से पहले कोई दबाव लेना चाहती हैं.

पुरुष टीम के साथ क्या हुआ, हमें उससे कुछ लेना देना नहीं है: Smriti Mandhana

स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) की टीम वुमेंस प्रीमियर लीग के फाइनल में है और आज वो दिल्ली कैपिटल्स को हराकर इतिहास रचना चाहेंगी. फाइनल से पहले स्मृति मंधाना ने कहा,

‘पहले तो मुझे लगता है कि यह साल हमारे लिए पूरी फ्रेंचाइजी से जुड़ने के लिए काफी अहम था. पुरुष टीम के साथ जो हुआ, कभी कभार इससे दबाव होता है. इसलिए हम सिर्फ यही सोच रहे हैं कि हम अभी दूसरे ही सत्र में हैं इसलिए ज्यादा तनाव नहीं लेना चाहिए. पुरुष टीम के साथ क्या हुआ, हमें उससे कुछ लेना देना नहीं है.’

वर्तमान में रहना अहम है: Smriti Mandhana

वुमेंस प्रीमियर लीग के शुरुआत में स्मृति मंधाना की टीम का प्रदर्शन बेहद ही खराब है. टीम शुरुआती लीग मैचों में मुश्किल से क्वालीफाई करने में सफल रही और अंक तालिका में चौथे स्थान पर थी. हालांकि प्लेऑफ में स्मृति मंधाना की टीम ने बेहद शानदार खेल दिखाया और अब टीम फाइनल में पहुंच चुकी है.

दिल्ली कैपिटल्स के साथ फाइनल मैच से पहले स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) ने कहा कि

‘क्रिकेट ने जो सिखाया है, उसके अनुसार वर्तमान में रहना अहम है. यह मैच के दिन अच्छा क्रिकेट खेलने के बारे में हैं और कल के मुकाबले में जो भी टीम अच्छा करेगी खिताब जीतेगी.’

ALSO READ: “जा रहा है तो जा मैंने भी नहीं रोका…” आशीष नेहरा ने बताई अंदर की बात, इस वजह से हार्दिक पंड्या ने छोड़ा गुजरात टाइटंस