ROHIT SHARMA CAPE TOWN TEST

Rohit Sharma: भारत और साउथ अफ्रीका (IND vs SA) के बीच केपटाउन  (Newlands, Cape Town) में दूसरा टेस्ट मैच बीते कल मात्र 2 दिन में ही खत्म हुआ. केपटाउन की पिच बल्लेबाजों के लिए काल बनकर सामने आई. पहले ही दिन दोनों टीमों के कुल 23 विकेट गिरे. उसके बाद दूसरे दिन का खेल खत्म होने के पहले ही मैच खत्म हो गया. दोनों दिन मिलाकर कुल 33 विकेट गिरे और मात्र 107 ओवर में पूरा टेस्ट मैच ही खत्म हो गया, जिसे भारत (Team India) ने 7 विकेट से अपने नाम किया.

दूसरे टेस्ट मैच में जीत के साथ ही भारत ने टेस्ट सीरीज ड्रा कराई, लेकिन कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) केप टाउन की पिच से खुश नहीं हैं और उन्होंने आईसीसी पर मैच के बाद सांकेतिक रूप से निशाना साधा है. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने विश्व कप फाइनल मैच की पिच पर भी आईसीसी को खराब रेटिंग देने पर फटकार लगाया है.

‘अपना मुंह बंद रखों’

भारतीय कप्तान (Rohit Sharma) ने दूसरा टेस्ट मैच जीतने के बाद आईसीसी और बाकी टीमों को जमकर लताड़ लगाई. भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कहा कि जब तक कि बाकी टीमें भारतीय पिचों को लेकर चुप्पी साधे रखती हैं, तब तक भारत और भारतीय खिलाड़ियों को केपटाउन जैसी पिचों पर खेलने से कोई आपत्ति नहीं है.

आईसीसी विश्व कप 2023 के दौरान पिच को लेकर खूब बवाल हुआ था. यहाँ तक कि फाइनल मैच की पिच को लेकर भी बवाल देखने को मिला था. आईसीसी ने अहमदाबाद की पिच को औसत से भी कम का रेटिंग दिया था.

वहीं पिछले साल ऑस्ट्रेलियाई कप्तान को जब भारत में टेस्ट सीरीज में हार मिली थी, तब भी उन्होंने भारत पर पिच से छेड़छाड़ का आरोप लगाया था.

ALSO READ:IND vs SA, STATS: महज 12 ओवर में जीत के साथ दूसरे टेस्ट में बने कुल 23 ऐतिहासिक रिकार्ड्स, बुमराह-सिराज ने लगाया रिकार्ड्स की झड़ी

आईसीसी को रोहित शर्मा की जमकर लताड़

दूसरे टेस्ट में मिली जीत के बाद रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने आईसीसी से सीधा सवाल पूछा कि जिस पिच पर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गये आईसीसी विश्व कप 2023 फाइनल में शतक लगा उसे आपने औसत से भी नीचे की रेटिंग दी, तो केपटाउन की पिच पर आप क्या कहना चाहेंगे?

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि

“सबने देखा कि इस मैच में क्या हुआ. मुझे इस पिच पर खेलने में कोई दिक्कत तब तक नहीं, जब तक आप भारत की पिचों पर शिकायत करना बंद नहीं करते, इसलिए अपना मुंह बंद रखें। यहां पर खेलने में खतरा था, चैलेंज था, आप भारत में आकार भी चैलेंज फेस करो. भारत में पहले दिन से ही ट्रैक टर्न करने पर कहते हैं धूल उड़ रही है. विश्व कप फाइनल में शतक लगा और उस पिच को खराब बताया. आप पिच देखकर रेटिंग दो देश को देखकर नहीं.”

ALSO READ: IND vs SA: WWWWWW..बुमराह ने केपटाउन में मचाया हाहाकार, महज 12 ओवर ने भारत ने अफ्रीका को पिटा, 7 विकेट से मिली जीत