जब रवि शास्त्री ने जूते से की थी पाकिस्तानी क्रिकेटर जावेद मियांदाद की पिटाई
जब रवि शास्त्री ने जूते से की थी पाकिस्तानी क्रिकेटर जावेद मियांदाद की पिटाई

इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री अपने किस्से कहानियों के लिए मशहूर हैं. शास्त्री ने अब पूरे 60 साल के हो चुके हैं. पिछले साल 2021 नवंबर में उन्होंने कोच के पद से इंस्तीफा दिया था. हम आपको रवि शास्त्री और जावेद मियांदाद का एक ऐसा किस्सा बताने जा रहे हैं, जिसे आप शायद ही जानते होंगे. रवि शास्त्री एक बार जावेद मियांदाद के पीछे जूता लेकर दौड़ पड़े थे. तो आखिर ऐसा क्या हुआ था कि नौबत जूते तक आ गई थी.

इस बात पर हुआ था विवाद

साल 1987 में जब इंडिया और पाकिस्तान के बीच हैदराबाद में तीसरा वनडे मैच खेला जा रहा था. इस मैच में इंडिया ने पाकिस्तान को बुरी तरह से हरा दिया था. रवि शास्त्री और कपिल देव ने 69 और 59 रनों की पारी खेली थी. जावेद मियांदाद अपनी टीम की हार को सहन नहीं कर पाए और उन्होंने रवि शास्त्री पर चीटिंग कर मैच जीतने का आरोप लगा दिया. इस बात पर रवि शास्त्री गुस्सा हो गए और वो जावेद मियांदाद पर सीधे खड़े हो गए.

ALSO READ: रवि शास्त्री की पत्नी की खूबसूरती की सामने कही नहीं टिकती कोहली की पत्नी अनुष्का, देखें तस्वीरें

जावेद मियांदाद का ड्रेसिंग रूम तक जूता लेकर किया था पीछा

जावेद मियाँदाद

अपने उपर लगे गलत आरोपों से गुस्साए रवि शास्त्री ने जूता उठाकर जावेद मियांदाद का पाकिस्तानी ड्रेसिंग रूम तक पीछा करने लगे. ड्रेसिंग रूम में मौजूद पाकिस्तानी क्रिकेटर्स ने दोनों के बीच में आकर उनका बीच बचाव किया और मामले को शांत किया. इस मामले के बाद दोनों ने अपने इख्तलाफात को खत्म कर दिया और आपस में दोस्ती कर ली. कई बार दोनों को एक साथ देखा गया.

जिस तरह से वो जावेद मियांदाद के उपर गुस्साए थे, अगर उस दिन दोनों के बीच रोकथाम न किया जाता तो मामला बहुत बिगड़ जाता. ये क्रिकेट के इतिहास में सबसे नामचीन लड़ाईयों में से एक है. इस बात को हमेशा हमेशा याद रखा जाएगा. इसके अलावा भी क्रिकेट के इतिहास में कई ऐसी लड़ाईयां हुई हैं, जिन्हें लोग सिर्फ नाम से पहचानते हैं.

ALSO READ: महेंद्र सिंह धोनी ने पुणे में खरीदा आलीशान घर, तस्वीरें देख किसी किला से नहीं लगेगा कम