23 साल अंतरराष्टीय क्रिकेट खेलने के बाद मिताली राज ने किया संन्यास का ऐलान, अब इस फिल्ड में बनाएंगी करियर
23 साल अंतरराष्टीय क्रिकेट खेलने के बाद मिताली राज ने किया संन्यास का ऐलान, अब इस फिल्ड में बनाएंगी करियर

भारतीय महिला क्रिकेट (INDIAN WOMEN CRICKET) की जब बात होती है, तो ज़ुबां पे सबसे पहला नाम मिताली राज (MITHALI RAJ) का आता है. उन्होंने अपने नाम से भारतीय महिला क्रिकेट को एक पहचान दी. 8 जून बुधवार को उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट(INTERNATIONAL) को अलविदा कहे दिया है. 29 साल की मिताली राज(MITHALI RAJ) ने अपनी ज़िंदगी के 23 साल क्रिकेट को समर्पित कर अब इसको अलविदा कहे दिया है.

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिए यह एक दुख की बात है. मिताली राज के नाम पर बतौर कप्तान और एक खिलाड़ी के रूप में कई बड़ रिकॉर्ड दर्ज हैं. उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कहते हुए ट्वीटर पर एक लंबा सा पोस्ट लिखा.

ट्वीटर पर लिखा लंबा सा लेख

Methali raj twitter post

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा,

‘मैं एक छोटी बच्ची थी जब मैंने ब्लू जर्सी पहनकर अपने देश का प्रतिनिधित्व किया था. ये सफर काफी लंबा रहा जिसमें हर तरह के पल देखने को मिले, पिछले 23 साल  मेरे जीवन के सबसे बेहतरीन पलों में से एक थे. हर सफर की तरह ये सफर भी खत्म हो रहा है और आज मैं इंटरनेशनल क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेने का ऐलान करती हूं.’

उन्होंने आगे लिखा,

‘मैंने जब भी मैदान पर कदम रखा, हमेशा अपना बेहतर करने की कोशिश की और टीम को जीत दिलाने पर फोकस किया. मुझे लगता है कि अपने करियर को अलविदा कहने का यही यही सही वक्त है, जहां पर भारत का भविष्य युवा प्लेयर्स के हाथ में है. मैं बीसीसीआई, सचिव जय शाह और बाकी सभी अधिकारियों का शुक्रिया अदा करती हूं.’

ALSO READ: गौतम गंभीर के पांच अहम फैसले जो IPL में साबित हुए मास्टर स्ट्रोक, किसी को ऑलराउंडर बनाया तो किसी को ओपनर

आगे लिखते हुए मिताली ने कहा,

‘कई साल तक टीम की कप्तानी करना मेरे लिए गर्व की बात रही, इस वक्त ने मुझे एक इंसान के तौर पर बेहतर बनाया, साथ ही महिला क्रिकेट को भी आगे बढ़ाया. ये सफर  भले ही यहां पर खत्म हो रहा है लेकिन मैं किसी ना किसी रूप में क्रिकेट के साथ जुड़ी रहूंगी.’

मिताली के नाम दर्द हैं कई रिकॉर्ड

Methali raj

मिताली भारतीय महिला क्रिकेट को बहुत आगे बढ़ाया बल्कि उन्होंने अपने करियर में एक से बढ़कर एक रिकॉर्ड भी बनाएं.

मिताली ने अपने करियर में सिर्फ 12 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमे उन्होंने 43.68 की औसत से 699 रन बनाएं हैं. टेस्ट की इन पारियों में उनके नाम एक दोहरा शतक(214 रन) भी हैं

मिताली ने इंडिया के लिए कुल 232 वनडे मैच खेले, जिसमे उन्होंने 50.68 की औसत से 7805 रन बनाएं. एक दिवसीय मैचों में उनके नाम 7 शतक और 64 अर्धशतक दर्ज हैं. मिताली वनडे क्रिकेट में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाली महिला क्रिकेटर हैं.

वहीं, उन्होंने इंडिया के लिए खेलते हुए 89 टी20 मैचों में 2364 रन बनाए, जिसमे 17 अर्धशतक शामिल हैं.

एक कप्तान के तौर पर उन्होंने सबसे ज़्यादा मैच जीतने का रिकॉर्ड बनाया है.155 एक दिवसीय मैचों में कप्तानी करते हुए 89 मैचों में जीत दर्ज की और 63 में हार का सामना किया. महिला क्रिकेट में वो इकलौती कप्तान हैं, जिसने 150 से अधिक वनडे मैचों में कप्तानी की है.

ALSO READ: 45 साल की उम्र इस एक्ट्रेस ने तोड़ा शिल्पी राज के MMS का रिकार्ड, कमरे की लाइट बंद कर करने लगी गंदा काम, वीडियो हुआ वायरल