ऑरेंज कैप मिलने के बाद भी खुश नहीं हैं जॉस बटलर, इंग्लैंड लौटने से पहले इस खिलाड़ी के लिए फूट-फूट रोया क्रिकेटर
ऑरेंज कैप मिलने के बाद भी खुश नहीं हैं जॉस बटलर, इंग्लैंड लौटने से पहले इस खिलाड़ी के लिए फूट-फूट रोया क्रिकेटर

आईपीएल का 15वें (IPL 2022) संस्करण का अंत हो गया है. इस सीजन में राजस्थान रॉयल्स (RAJSTHAN ROYALS) फाइनल तक तो पहुंची लेकिन जीत न सकी. इंडियन प्रीमियर लीग 2022 (IPL 2022) का फाइनल मैच राजस्थान रॉयल्स और गुजरात टाइटंस (RAJSTHAN ROYALS AND GUJRAT TITANS) के बीच खेला गया था. इस मैच को राजस्थान ने 7 विकटों से गंवा दिया. राजस्थान रॉयल्स (RAJSTHAN ROYALS) के बल्लेबाज़ और ऑरेंज कैप विजेता जॉस बटलर (ORANGE CAP WINNER JOS BUTTLER) मैच के बाद भावुक होते दिखाई दिए.

इस दिग्गज को याद कर भावुक हुए जॉस बटलर

JOS BUTTLER

जॉस बटलर राजस्थान रॉयल्स के पहले कप्तान शेन वॉर्न को याद करते हुए भावुक हो गए. बटलर ने कहा कि

“शेन वॉर्न राजस्थान रॉयल्स के लिए एक प्रभावशाली व्यक्ति हैं. पहले सीजन में सफलता दिलाने के लिए हम उन्हें बहुत याद करेंगे, लेकिन हम जानते हैं कि वो आज हमे गर्व के साथ देख रहे हैं.”

शेन वॉर्न पूरी दुनिया में अपनी गेंदबाज़ी के लिए मशहूर थे. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 700 से ज़्यादा विकेट लिए हैं.

जॉस बटलर बने प्लेयर ऑफ द सीरीज

JOS BUTTLER AGAINST DELHI CAPITALS

राजस्थान के स्टार बल्लेबाज़ रहे जॉस बटलर ने इस पूरे सीजन अपने बल्ले से कमाल किया. उन्होंने टीम को कई अहम मैच जितवाने में अपना योगदान दिया. जॉस बटलर ने इस सीजन सबसे ज़्यादा रन बनाकर ओरेंज कैप अपने नाम किया.

जॉस बटलर ने अपनी टीम के लिए 16 मैचों में 51.5 की औसत से 824 रन बनाए हैं. इस सीजन उनके बल्ले से 4 शतक और 4 अर्धशतक निकले हैं. हालांकि, बटलर विराट कोहली का रिकॉर्ड तोड़ने से चूक गए. बटलर को इस आईपीएल प्लेयर ऑफ द सीरीज के खिताब से नवाज़ा गया.

ALSO READ: आईपीएल में शानदार फॉर्म में होने के बाद भी संजू सैमसन को क्यों नहीं मिला साउथ अफ्रीका के खिलाफ टीम में जगह, वजह आई सामने

राजस्थान ने किया कमाल

Rajsthan Royals

संजू सैमसन की कप्तानी वाली राजस्थान रॉयल्स ने इस सीजन 16 में से 10 मैच जीते हैं. राजस्थान ने सबसे पहले सीजन साल 2008 आईपीएल का खिताब अपने नाम किया था. बता दें, फाइनल मैच में राजस्थान ने अपने सभी उन खिलाड़ियों को निमंत्रण दिया था, जो साल 2008 में टीम में मौजूद थे.

ALSO READ: IPL 2022: फाइनल जीतने के बाद भावुक हुई नताशा स्टेनकोविक, 1 लाख 30 हजार लोगों के बीच हार्दिक पांड्या को लगाया गले