IND vs ENG: 'उसको जबसे मैंने टीम में शामिल किया और भी घातक हो गया है', ट्रॉफी जीतने पर बोले कप्तान रोहित शर्मा
IND vs ENG: 'उसको जबसे मैंने टीम में शामिल किया और भी घातक हो गया है', ट्रॉफी जीतने पर बोले कप्तान रोहित शर्मा

इंग्‍लैंड ने रविवार को तीसरे व अंतिम टी20 इंटरनेशनल मैच (IND vs ENG) में टीम इंडिया को 17 रन से हराकर अपनी साख बचाई। जोस बटलर के नेतृत्‍व वाली इंग्‍लैंड ने तीन टी20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज में अपना क्‍लीन स्‍वीप होने से बचाया। 

नॉटिंघम में खेले गए मैच में इंग्‍लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी की और निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 215 रन बनाए। जवाब में भारतीय टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 198 रन बना सकी। हालांकि, रोहित शर्मा के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम ने सीरीज 2-1 से अपने नाम की।

सूर्यकुमार की बेहतरीन पारी

SURYAKUMAR YADAV

भारत के जल्दी शुरुआती विकेट गिरने के बाद सूर्यकुमार यादव (117) ने श्रेयस अय्यर (28) के साथ मिलकर भारतीय पारी को संभाला। सूर्या ने मैदान के चारों कोनों में शॉट खेलकर रनगति को बनाए रखा और उन्‍होंने श्रेयस अय्यर के साथ शतकीय साझेदारी भी की। 

दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 119 रन की साझेदारी हुई। टॉपले ने अय्यर को बटलर के हाथों कैच आउट कराकर इस साझेदारी को तोड़ा। सूर्यकुमार यादव ने इस बीच अपने टी20 इंटरनेशनल करियर का पहला शतक जमाया और वो ऐसा करने वाले पांचवें भारतीय बल्‍लेबाज बने।

ALSO READ:IND vs ENG: सूर्या की तूफानी शतक के बाद आज के मैच में बने कुल 11 बड़े रिकार्ड्स, सूर्यकुमार यादव ने रचा इतिहास

सूर्यकुमार यादव जबसे टीम में आये है बड़ा गए

IND vs ENG: सीरीज जीतते ही रोहित शर्मा ने किया खुलासा, इस खिलाड़ी को मिलेगा अंतिम मैच में मौका, भुवी को नहीं इन्हें दिया जीत का श्रेय

भारत के कप्तान रोहित शर्मा ने तीसरे मैच के बाद पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में कहा,

“यह बेहतरीन रन चेज़ था। हालांकि हम चूक गए। हमें लड़ाई पर गर्व है। सूर्या ने शानदार बल्लेबाजी की। मैं उसे कुछ समय से देख रहा हूं। इस फॉर्मेट को वो काफी पसंद करते हैं। इसमें व्यापक रेंज के शॉट्स हैं। जब से हमने उन्हें टीम में शामिल किया है, वो और ज्यादा मजबूत हो गए हैं। इंग्लैंड ने अपनी बल्लेबाजी से हमपर दबाव बनाया। अच्छी साझेदारी ने हमें बैकफुट पर ला खड़ा किया। हम लोगों को आजमाने में स्पष्ट थे अगर वे 4 ओवर गेंदबाजी कर सकते हैं। हमारे पास एक ग्रुप के रूप में काम करने के लिए चीजें हैं। ऐसी आशा है। अब तक चीजें काफी अच्छी हैं। हम ऐसे ही नहीं बैठना चाहते हैं। हम हर मैच में बेहतर करना चाहते हैं। आज का दिन हमारे लिए बाहर आकर गेंदबाजी करना एक बड़ी सीख थी। और बल्लेबाजी भी। इस तरह के खेल आपको सिखाएंगे।”