VRINDA DINESH

आईपीएल (IPL) की तर्ज पर महिलाओ के लिए भी बीसीसीआई (BCCI) ने टी20 लीग की शुरुआत की है, जिसका नाम महिला प्रीमियर लीग (WPL) रखा गया है. बीसीसीआई ने इसकी शुरुआत पिछले साल की थी. इस साल शुक्रवार 8 दिसंबर को महिला आईपीएल 2024 (WPL 2024) के लिए खिलाड़ियों की नीलामी हुई, जिसमे भारत (TEAM INDIA) की वृंदा दिनेश (Vrinda Dinesh) करोड़पति बन गई हैं.

वृंदा दिनेश के करोड़पति बनने से फैंस काफी चौक गये हैं, क्यूंकि वृंदा दिनेश ने आज तक भारत के लिए अब तक डेब्यू नहीं किया है.

10 लाख था वृंदा दिनेश का बेस प्राइस

22 साल की वृंदा दिनेश (Vrinda Dinesh) ने महिला प्रीमियर लीग 2024 (WPL 2024) की नीलामी के लिए अपना बेस प्राइस सिर्फ 10 लाख रूपये रखा था, लेकिन जब नीलामी शुरू हुई तो सभी फ्रेंचाइजी की दिलचस्पी इस खिलाड़ी में देखने को मिली और देखते ही देखते बोली 1 करोड़ के पार कर गई. वृंदा दिनेश को यूपी वॉरियर्स (UP Warriors) टीम ने 1.3 करोड़ रुपये की भारी भरकम बोली लगाकर अपनी टीम में शामिल किया है.

वृंदा दिनेश ने अपनी बल्लेबाजी से पिछले कुछ महीनों में घरेलू क्रिकेट में धमाल मचाया है. इसी के साथ वृंदा दिनेश इस ऑक्शन में बिकने वालीं दूसरी सबसे महंगी अनकैप्ड प्लेयर बन गईं. उनसे ज्यादा रकम काश्वी गौतम (Kashvee Gautam) को मिली, जिन्हें 2 करोड़ में गुजरात जायंट्स ने खरीदा.

22 साल की वृंदा दिनेश कर्नाटक से रखती हैं सम्बंध

22 साल की वृंदा दिनेश कर्नाटक के लिए घरेलू क्रिकेट खेलती हैं. वृंदा दिनेश टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी करती हैं और पीछले कुछ महीनों में इस खिलाड़ी ने अपने बल्लेबाजी से घरेलू क्रिकेट में तूफ़ान मचा रखा है. हालांकि वृंदा दिनेश ने आज तक भारत के लिए डेब्यू नहीं किया है.

अब जब वृंदा दिनेश को यूपी वॉरियर्स (UP Warriors) टीम ने 1.3 करोड़ रुपये में अपने टीम में शामिल किया है, तो उम्मीद है कि वो फ्रेंचाइजी के लिए हर मैच में खेलते हुए दिखेंगी और अगर वो महिला टी20 लीग में शानदार प्रदर्शन करने में सफल रहीं तो जल्द ही वो भारत के लिए भी डेब्यू कर सकती हैं.

मैग लैनिंग को अपना आदर्श मानती हैं वृंदा दिनेश

अपनी पावर-हिटिंग के लिए मशहूर वृंदा दिनेश अंडर-23 विश्व कप में भारत को विजेता बना चुकी हैं. उन्होंने एसीसी महिला इमर्जिंग टीम कप के फाइनल में बांग्लादेश ए के खिलाफ मैच में 29 गेंदों पर 5 चौके और 1 छक्के की मदद से 36 रनों की पारी खेली थी. इंडिया ए टीम ने मैच 31 रन से जीतकर खिताब अपने नाम किया.

वहीं कर्नाटक को सीनियर महिला वनडे कप फाइनल में पहुंचाने में वृंदा दिनेश ने अहम भूमिका निभाई थी. तब वह टूर्नामेंट में तीसरी सबसे ज्यादा रन बनाने वाली प्लेयर भी बनीं. उन्होंने 11 पारियों में 47 के शानदार औसत से कुल 477 रन बनाए. इसमें राजस्थान के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में 81 रन की यादगार पारी भी खेली.

मैग लैनिंग को वृंदा दिनेश अपना आइडल मानती हैं और उन्ही की तरह महान क्रिकेटर बनना चाहती हैं.

ALSO READ:IND vs SA: कप्तान सूर्यकुमार यादव ने बताया साउथ अफ्रीका के खिलाफ कौन करेगा पारी की शुरुआत और किन 11 खिलाड़ियों को मिलेगा टीम में मौका