PAUL VAN MEEKEREN NED

कल साउथ अफ्रीका और नीदरलैंड के बीच ऐतिहासिक मुकाबला खेला गया था. ऐतिहासिक इसलिए क्योंकि इस मैच में विश्व कप की सबसे मजबूत टीम दक्षिण अफ्रीका को सबसे कमजोर टीम नीदरलैंड ने 38 रन से हरा दिया था. वैसे तो नीदरलैंड के सभी खिलाड़ियों ने इस मैच में बेहतर प्रदर्शन किया था, लेकिन पॉल वैन मीकेरेन पूरे मैच में दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों पर हावी रहे. पाॅल ने 9 ओवर की गेंदबाजी की जिसमें उन्होंने 40 रन दिया और 2 विकेट चटकाए.

संघर्षों से भरा है पाॅल वैन मीकेरेन

पाॅल वैन मीकेरेन ने नीदरलैंड के लिए डेब्यू साल 2013 में किया था. लेकिन ना तो नीदरलैंड ने लगातार क्रिकेट सीरीज खेला और ना ही पाॅल को लगातार मौका मिला.

अपने 10 साल के करियर में पाॅल वैन मीकेरेन सिर्फ 16 वनडे मैच खेल सके हैं. साल 2020 में जब कोरोना महामारी फैली तो ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी-20 विश्व कप रद्द हो गया.

पाॅल वैन मीकेरेन उस समय वित्तीय संकट में चल रहे थे, उनको उम्मीद थी ऑस्ट्रेलिया में जब विश्व कप होगा तब उनको जीवनयापन के लिए कुछ आर्थिक मदद मिलेगी, लेकिन विश्व कप रद्द होने से पाॅल वैन मीकेरेन को डिलीवरी ब्वॉय की नौकरी करनी पड़ी थी.

चीजे बदल जाती हैं~ पाॅल वैन मीकेरेन

उस वक्त पॉल वैन मीकेरेन ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखा था. पाॅल वैन मीकेरेन ने लिखा,

‘आज क्रिकेट खेलना चाहिए था, अब मैं उबर ईट्स डिलीवर कर रहा हूँ!! अजीब बात है कि चीजें कैसे बदल जाती हैं, लोग मुस्कुराते रहें.’

ऐसा रहा था मैच

नीदरलैंड ने कल तक टूर्नामेंट में दो मैच खेला था, जिसमें उनको दोनों में हार मिली थी. मैच शुरू होने से पहले वोटिंग हुआ तो 97 प्रतिशत लोग मान रहे थे साउथ अफ्रीका मैच जीत जाएगी, लेकिन नतीजा कुछ और ही निकला. इस मैच में साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी थी.

पहले खेलने उतरी नीदरलैंड ने बारिश के बाद निर्धारित 43 ओवर में कप्तान स्कॉट एडवर्ड्स के अर्द्धशतक की मदद से 245 रन बनाया. इसके जवाब में खेलने उतरी साउथ अफ्रीका सिर्फ 207 रन पर आलआउट हो गई.

ALSO READ: आईसीसी विश्व कप के बीच पाकिस्तान के इस खिलाड़ी पर टूटा दुखो का पहाड़, बहन के निधन के बाद लौटा स्वदेश