HASHMATULLAH SHAHIDI POST MATCH

हशमतुल्लाह शहीदी: क्रिकेट के इतिहास में आज तक अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को कभी नही हराया था. आज अफगानिस्तान की नई नवेली टीम ने इतिहास रचते हुए पाकिस्तान को 8 विकेट से शिकस्त दी. पहले खेलने उतरी पाकिस्तान बल्लेबाजी क्रम को अफगानी गेंदबाजों ने 282 रन पर रोका.

इसके जवाब में अफगानिस्तान के बल्लेबाज ने पूरे मैच सिर्फ 2 विकेट खोया और लक्ष्य हासिल कर लिया. जीत के बाद अफगानिस्तान के कप्तान हशमतुल्लाह शहीदी का क्या कहना है, आइए पढ़ते हैं.

हशमतुल्लाह शहीदी ने ऐतिहासिक जीत के बाद कही ये बात

मैच के बाद बोलते हुए अफगानिस्तान के कप्तान हशमतुल्लाह शहीदी ने कहा कि,

‘इस जीत का स्वाद अच्छा है. जिस तरह से हमने पीछा किया वह बहुत पेशेवर था. अन्य खेलों का इंतज़ार कर रहा हूँ. जिस तरह से हमने आज पीछा किया, हम वैसा ही फिर से करेंगे. हम पिछले कुछ वर्षों से जो गुणवत्तापूर्ण क्रिकेट खेल रहे हैं, उसका विश्वास तब भी था जब हम एशिया कप खेल रहे थे.’

इस टूर्नामेंट को अपने लोगों के लिए ऐतिहासिक बनाना चाहते हैं

आगे बोलते हुए अफगानी कप्तान हशमतुल्लाह शहीदी ने कहा कि,

‘टूर्नामेंट की शुरुआत में मैंने कहा था कि हम इस टूर्नामेंट को अपने देश के लोगों के लिए ऐतिहासिक बनाना चाहते हैं. पहले इंग्लैंड था, आज पाकिस्तान अन्य खेलों की प्रतीक्षा में है. हम सकारात्मक क्रिकेट खेलने और इस विश्व कप में अपने देश के लिए बहुत कुछ करने की पूरी कोशिश करेंगे.’

नूर अहमद के तारीफ में बोले कप्तान हशमतुल्लाह शहीदी

अफगनिस्तान के स्पिन अटैक दुनिया की सबसे बेस्ट स्पिन अटैक मानी जाती है. इस पर बोलते हुए हशमतुल्लाह शहीदी ने कहा कि,

‘स्पिन गेंदबाजी विभाग ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया. हमने नूर को मौका दिया और उस पर भरोसा किया, उसने अपनी प्रतिभा दिखायी. गुरबाज़ और इब्राहिम ने जिस तरह से पारी की शुरुआत की, उन्होंने वह गति और आत्मविश्वास दिया. खेल शुरू से अंत तक हमारे हाथ में रहा. आखिरी साझेदारी जो मैंने और रहमत ने निभाई थी वह भी अच्छी थी.’

ALSO READ: “उसे सही लेंथ पर गेंदबाजी करनी नही आती” अफगानिस्तान से मिली हार के बाद अपने ही खिलाड़ी पर भड़के बाबर आजम, इस खिलाड़ी को माना हार का जिम्मेदार