DHONI EMOTIONAL 1 1 - 1

22 अक्टूबर को भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 4 विकेट से मुकाबला जीतकर अपनी उस हार का बदला लिया जिसकी वजह से टीम 2019 विश्व कप में सेमीफाइनल से बाहर हो गई थी। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय टीम के लिए आखिरी मैच खेला था। जिसमें उन्होंने शानदार अर्धशतक जड़ा था लेकिन मैच जीतने से पहले वह रनआउट हो गए थे।

इस मैच से जुड़ा एक किस्सा हाल ही में पूर्व बैटिंग कोच संजय बांगर ने फैंस के साथ साझा किया था। उन्होंने बताया था कि कीवियों के खिलाफ मुकाबला हारने के बाद धोनी फूट-फूटकर रोए थे।

18 रन से हारा था भारत

बता दें कि  विश्व कप 2019 का भारत बनाम न्यूजीलैंड मैच टीम इंडिया के लिए दु:स्‍वप्‍न साबित हुआ था। बारिश की वजह से ये मैच दो दिनों तक चला था। पहले बल्लेबाजी करते हुए कीवी टीम ने 50 ओवर में 8 विकेट खोकर 239 रन बनाए थे।

इसके जवाब में टीम इंडिया 49.3 ओवर में 221 रनों पर ऑलआउट हो गई थी। इस मुकाबले में धोनी ने 50 और जडेजा ने 77 रनों की पारी खेली थी। 18 रन की हार के साथ भारत का फाइनल में पहुंचने का सपना टूट गया था। इस मैच में मिली शिकस्त के बाद धोनी बच्चों की तरह रोए थे।

संजय बांगर ने कहा कि,

“सभी प्‍लेयर्स के लिए यह भावनाओं को भरा क्षण था क्‍योंकि भारत इस टूर्नामेंट में बेहतरीन क्रिकेट खेल रहा था। हमने ग्रुप स्‍टेज में 9 मैचों में से सात मैच जीते थे। इंग्‍लैंड के खिलाफ टीम को हार मिली थी जबकि न्‍यूजीलैंड के खिलाफ मैच बारिश में धुल गया था। लीग स्‍तर पर इस प्रदर्शन के बाद बाहर होना बेहद दुखदायी था। एमएस धोनी बच्‍चों की तरह रो रहे थे। हार्दिक पंड्या और ऋषभ पंत की आंखों में भी आंसू थे।”

बच्चों की तरह रोए थे धोनी…

अब पूर्व कप्तान एम एस धोनी ने स्वीकार किया है कि वह न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में मिली हार के बाद अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख सके थे। उनकी आंख से आंसू निकलते ही जा रहे थे।

धोनी ने कहा कि,

“जब आप करीबी गेम हार जाते हैं, तो भावनाओं पर कंट्रोल रखना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। मैं हर मैच के लिए अपना प्लान तैयार रखता हूं और मेरे लिए यह आखिरी गेम था, जो मैंने इंडिया के लिए खेला था।”

ALSO READ: पाकिस्तान टीम में पड़ी फूट? शादाब खान ने किया बड़ा खुलासा बताई टीम के अंदर की बात