ROHIT SHARMA MAN OF THE MATCH

भारतीय टीम अपने 5 मैचों में जीत के बाद 6वें मैच में विश्व विजेता इंग्लैंड से लखनऊ के इकाना स्टेडियम में मिली. इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम मात्र 229 रन ही बना सकी.

भारत की तरफ से कप्तान रोहित शर्मा ने सबसे अधिक 87 रन बनाए, वहीं केएल राहुल और सूर्यकुमार यादव ने भी उपयोगी पारी खेली और 229 रनों का लक्ष्य रखा, जिसके जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड को भारतीय टीम ने मात्र 34.5 ओवर में 129 रन पर ऑलआउट कर दिया. जीत के बाद भारतीय कप्तान रोहित शर्मा को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया.

विश्व कप में 20 साल बाद इंग्लैंड से जीत सका भारत

विश्व कप में भारत ने 20 साल बाद इंग्लैंड को हराया है. इससे पहले भारतीय टीम को 2003 के विश्व कप में इंग्लैंड पर जीत मिली थी. इस जीत में कप्तान रोहित शर्मा, तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह का बड़ा योगदान रहा.

मोहम्मद शमी ने 4 विकेट लिए, तो वहीं जसप्रीत बुमराह को 3 विकेट मिले. स्पिनर कुलदीप यादव ने 2 विकेट लिए. इंग्लैंड के लिए डेविड विली ने 3 विकेट झटके जबकि क्रिस वोक्स और आदिल राशिद को 2-2 विकेट मिले.

फैंस ने कहा ये खिलाड़ी था मैन ऑफ द मैच का असली हकदार

भारतीय टीम की जीत के बाद कप्तान रोहित शर्मा को उनकी 87 रनों की महत्वपूर्ण पारी के लिए मैन ऑफ द मैच के अवार्ड से नवाजा गया, लेकिन भारतीय फैंस का मानना कुछ और ही था. भारतीय फैंस ने कप्तान रोहित शर्मा को नहीं बल्कि तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को जीत का असली हीरो बताया और कहा कि मोहम्मद शमी ही इस अवार्ड के असली हकदार थे.

पहले जसप्रीत बुमराह ने भारत को लगातार 2 गेंदों पर 2 सफलता दिलाई. जसप्रीत बुमराह ने मलान और जो रूट को लगातार 2 गेंदों पर 5वें ओवर में पवेलियन की राह दिखाई. इसके बाद मोहम्मद शमी ने 2 लगातार गेंदों पर जॉनी बेयरस्टो और बेन स्टोक्स को बोल्ड कर इंग्लैंड की कमर तोड़ दी.

मोहम्मद शमी ने इसके बाद  मोईन अली को विकेट के पीछे कैच कराया और आदिल राशिद को बोल्ड मारा, जो भारत की जीत की वजह बना. मोहम्मद शमी के इसी प्रदर्शन की वजह से फैंस ने उन्हें मैन ऑफ द मैच का असली हकदार बताया.

ALSO READ: अफगानिस्तान ने श्रीलंका को 7 विकेट से दी करारी शिकस्त, श्रीलंकाई कप्तान कुसल मेंडिस की ये गलती पड़ी टीम पर भारी