Collage Maker 23 Oct 2023 09 59 AM 3661 compressed - 1

मोहम्मद शमी हमेशा से अनलकी रहे हैं. उन पर टूर्नामेंट के शुरुआती मैचों में कभी भरोसा जताया नही जाता. लेकिन जब वह वापसी करते है तो अपनी अहमियत बता देते हैं आज भी कुछ ऐसा ही हुआ. भारतीय टीम मैनेजमेंट ने पहले चार मुकाबलों में शामी को प्लेइंग इलेवन से बाहर रखा. आज न्यूजीलैंड के खिलाफ उनको मौका मिला और उन्होंने पांच विकेट चटका दिए. इस प्रदर्शन के लिए उनको ‘मैन ऑफ द मैच’ का अवॉर्ड मिला. पुरस्कार लेते हुए उन्होंने क्या कहा, आइए पढ़ते हैं.

क्या बोले मोहम्मद शमी

मैच के बाद मोहम्मद शमी ने कहा कि, ‘पहली गेंद पर विकेट लेने के बाद काफी आत्मविश्वास आया. यदि आपकी टीम के साथी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, तो आपको उनका समर्थन करना चाहिए, यह महत्वपूर्ण है कि टीम अच्छा प्रदर्शन करे, मैं यह समझता हूं. देर से विकेट लेना महत्वपूर्ण था, आप हमेशा चाहते हैं कि आपकी टीम शीर्ष पर रहे. बहुत खुश हूं कि मुझे ये विकेट मिले और भारत तालिका में शीर्ष पर है.’ शामी ने विल यंग, रचिन रवींद्र, डेरिल मिशेल, सैंटनर और मैट हेनरी के विकेट चटकाए.

अगर नही भी खेल रहा हूं तो… – मोहम्मद शमी

अगर कोई गेंदबाज विश्व स्तरीय है और उसे प्लेइंग इलेवन में लगातार मौका नहीं दिया जाता है तो वह निश्चित रूप से निराश होता है. जब उसे मौका मिलता है तो वह कहीं ना कहीं टीम मैनेजमेंट और कप्तान को दिखाना चाहता है कि वह कितनी बेहतर तरीके से टीम की मदद कर सकता है. यह सवाल शमी से पूछा गया कि क्या उन्होंने इस मैच में कप्तान को दिखा दिया कि पहले चार मैचों में मौका ना देकर गलती की. तो इस पर शमी ने दिलचस्प जवाब दिया. उन्‍होंने कहा कि, ‘टीम अच्‍छा कर रही है यही मेरे लिए काफी है. अगर नहीं भी खेल रहा हूं तो भी मैं टीम का समर्थन करता रहूंगा.’

ALSO  READ:IND vs NZ: शतक नहीं कोहली ने 125 करोड़ देशवाशियों का जीता दिल, धर्मशाला में किंग ने बल्ले से हिलाया धरती, 4 विकेट से जीत