एक ऐसा मैच जब भारतीय टीम के सभी 11 खिलाड़ियों ने की गेंदबाजी, लक्ष्मण, द्रविड़ और वसीम जाफर को मिले थे विकेट
एक ऐसा मैच जब भारतीय टीम के सभी 11 खिलाड़ियों ने की गेंदबाजी, लक्ष्मण, द्रविड़ और वसीम जाफर को मिले थे विकेट

Indian Cricket Team में कई बेहतरीन गेंदबाजों की एंट्री हुई है, और लगातार होती ही जा रही है। स्पिनर और तेज गेंदबाजों द्वारा भारतीय टीम को टेस्ट क्रिकेट के दौरान कई मैच जिताए गए हैं। कई बार ऐसा भी देखा गया जब विपक्षी टीम के लिए उन्हें विकेट के लिए तरसना पड़ा हो। इसी तरह का एक मैच वेस्टइंडीज में हो चुका है। जहां भारतीय टीम के सभी 11 खिलाड़ियों द्वारा गेंदबाजी की गई थी।

सबसे खास बात यह रही कि भारतीय टीम के पार्ट टाइम गेंदबाजों द्वारा इसमें 6 विकेट झटके गए। 2002 में भारतीय टीम जब वेस्टइंडीज गई थी, तब एंटिगा में सीरीज के चौथे टेस्ट मैच के दौरान गेंदबाजी करने के लिए भारतीय टीम के सभी 11 खिलाड़ी मैदान पर उतरे थे। इस मैच के दौरान भारत के विकेटकीपर अजय रात्रा थे, और उनके द्वारा भी एक ओवर गेंदबाजी की गई थी।

दोनों ही टीमों की तरफ से इस मुकाबले के दौरान रनों का अंबार लगा था। लेकिन पहली ही पारी के दौरान सचिन तेंदुलकर जीरो पर आउट हो गए। वहीं गेंदबाजी के दौरान सचिन तेंदुलकर को 2, वसीम जाफर को 2 और राहुल द्रविड़ तथा वीवीएस लक्ष्मण को एक एक विकेट मिल सका।

भारतीय बल्लेबाजों द्वारा जड़े गए शतक

RAHUL DRAVID

वेस्टइंडीज द्वारा टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी के लिए कहा गया। वही ओपनर बल्लेबाज शिव सुंदर दास 3 रन बनाने के बाद आउट हो गए। इसके बाद राहुल द्रविड़ द्वारा 91 और वसीम जाफर द्वारा 86 रन बनाए गए। वहीं सचिन तेंदुलकर जीरो पर आउट हो गए थे। लेकिन वीवीएस लक्ष्मण द्वारा क्रीज पर टिककर बल्लेबाजी करते हुए 130 रन बनाए गए।

ALSO READ: IND vs WI: वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे टी20 से पहले आई बुरी खबर, चोटिल हैं कप्तान रोहित शर्मा, जानिए कब तक करेंगे अब वापसी

45 रनों पर सौरव गांगुली पवेलियन लौट गए थे। उस समय के नए विकेटकीपर बल्लेबाज अजय रात्रा द्वारा बेहतरीन 115 रन बनाए गए, और टीम में 9 विकेट पर 513 रन बनाकर पारी की घोषणा की गई।

स्कोरकार्ड कुछ इस तरह रहा था

वेस्टइंडीज द्वारा अपनी बल्लेबाजी के दौरान भारत की तरह शानदार बल्लेबाजी की गई। 4 विकेट 196 रन पर गिरने के बाद भी उनके बल्लेबाजों द्वारा भारत को विकेट नहीं दिया गया। कार्ल हूपर द्वारा 136 और शिवनारायण चंद्रपॉल द्वारा 136 रन बनाए गए। विकेटकीपर बल्लेबाज रिडले जैकब्स द्वारा भी 118 रन बनाए गए‌।

टीम इंडिया विकेट के लिए तरस रही थी, इसलिए कप्तान सौरभ गांगुली द्वारा सभी गेंदबाजों को आजमाया गया। पार्ट टाइम गेंदबाजों को विकेट मिल सके, लेकिन यह मैच ड्रा हो गया। विंडीज द्वारा अपनी पहली पारी 9 विकेट पर 629 रन बनाकर घोषित की गई, वही मैन ऑफ द मैच अजय रात्रा को चुना गया।

Read Also:-धोनी की कप्तानी में खेलने वाले इन 3 खिलाड़ियों ने बाद में अपनी कप्तानी में जीता आईपीएल ट्रॉफी, एक ने तो धोनी को ही कई बार हराया