bhuvneshwar kumar team india ind

वनडे विश्व कप 2023 (ICC World Cup 2023) के बाद भारतीय टीम (Indian Cricket Team) अपने नए मिशन के लिए तैयार हो रही है. ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) सीरीज़ में भारत ने 4-1 से सीरीज अपने नाम की, लेकिन हर किसी की नज़रें तो सिर्फ साउथ अफ्रीका (IND vs SA) के दौरे पर ही हैं, जो 10 दिसंबर से शुरू हो रहा है. भारतीय टीम (Team India) ने इस दौरे के लिए तीनों फॉर्मेट के स्क्वॉड का ऐलान कर दिया है, लेकिन इसमें एक खिलाड़ी को जगह नहीं मिली है जिसको लेकर काफी आलोचना हो रही है. यहां बात भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) की हो रही है जो काफी दिनों से टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं, लेकिन अभी बेहतरीन फॉर्म में हैं.

33 साल की उम्र में ही खत्म हुआ इस खिलाड़ी का करियर

33 साल के भुवनेश्वर कुमार ने टीम इंडिया के लिए आखिरी मैच नवंबर 2022 में खेला था, लेकिन अभी वो विजय हजारे ट्रॉफी खेल रहे हैं जहां बेहतरीन प्रदर्शन जारी है. विजय हजारे ट्रॉफी में भुवनेश्वर कुमार ने अभी तक 4 मैच में 10 विकेट झटके हैं, इस दौरान उनका इकॉनोमी रेट 5 से भी कम का रहा है यहां एक मैच में वो 4 विकेट भी ले चुके हैं. यानी भुवनेश्वर कुमार अपने पुराने रंग में दिखाई पड़ रहे हैं, इसके बाद भी उन्हें साउथ अफ्रीका दौरे के लिए नज़रअंदाज़ किया गया है.

पूर्व तेज़ गेंदबाज़ और गुजरात टाइटन्स के कोच आशीष नेहरा ने भी भुवनेश्वर कुमार के समर्थन में आवाज़ उठाई है. आशीष नेहरा का कहना है कि भुवी को कम से कम टी-20 और वनडे सीरीज़ के लिए चुना जाना चाहिए था, क्योंकि वो अच्छी फॉर्म में हैं और साथ ही साउथ अफ्रीका की पिचों पर वो मददगार साबित हो सकते हैं.

अगर भुवी की बात करें तो वो पिछले एक साल से टीम इंडिया में नहीं लौट पाए हैं, बीच में उन्हें चोट भी लगी थी. लेकिन टी-20 फॉर्मेट में नए बॉलर्स आने की वजह से भुवनेश्वर कुमार का पत्ता कट गया. यही वजह है कि पहले उम्मीद जताई जा रही थी कि घर में होने वाली ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ के लिए भुवी को मौका मिल सकता है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और अब साउथ अफ्रीका दौरे के लिए भी भुवी को जगह नहीं मिली है. ऐसे में अब 33 साल की उम्र में भुवनेश्वर कुमार का वापसी करना मुश्किल होता दिख रहा है.

साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम इंडिया

यशस्वी जायसवाल, शुभमन गिल, रुतुराज गायकवाड़, तिलक वर्मा, सूर्यकुमार यादव (कप्तान), रिंकू सिंह, श्रेयस अय्यर, इशान किशन (विकेटकीपर), जितेश शर्मा (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा (उपकप्तान), वॉशिंगटन सुंदर, रवि बिश्नोई, कुलदीप यादव, अर्शदीप सिंह, मोहम्मद सिराज, मुकेश कुमार और दीपक चाहर.

ALSO READ: फिर से खेला जाएगा 2023 वर्ल्ड कप का फाइनल? आईसीसी ने ले लिया है अंतिम फैसला, ऑस्ट्रेलिया ने बेईमानी से जीता है विश्व कप