mohammed shami and hardik pandya

भारत और इंग्लैंड के बीच रविवार, 29 अक्टूबर को वनडे विश्व कप 2023 का रोमांचक मुकाबला खेला जाएगा। इस मैच में दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिलेगी। भारतीय टीम इस मुकाबले में जीत दर्ज कर अपने विजय रथ को जारी रखने के उद्देश्य से उतरेगी। हालांकि, इस मैच से पहले टीम इंडिया को हार्दिक पांड्या के रुप में तगड़ा झटका लग सकता है।

अगले दो मैचों से बाहर हुए हार्दिक पांड्या

बता दें कि 19 अक्टूबर को पुणे में बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए मुकाबले में हार्दिक पांड्या फॉलो थ्रू के दौरान चोटिल हो गए थे। उनके पैर में गंभीर चोट आई थी, जिसकी वजह से उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा था। इस कारण से वह न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबले में भी शामिल नहीं हो सके थे।

अब खबर आ रही है कि स्टार ऑलराउंडर विश्व कप के अगले दो मुकाबलों से बाहर हो सकते हैं। उन्हें टखने की चोट से उबरने में वक्त लग सकता है।

इस विषय में बीसीसीआई से जुड़े सूत्र ने बताया कि उन्हें अगले मैचों में आराम दिया जा सकता है। दरअसल, टीम इंडिया पिछले 5 मैचों में लगातार जीत दर्ज करने के साथ मजबूत स्थिति में है। ऐसे में टीम मैनेजमेंट हार्दिक पांड्या को आराम दे सकता है।

सूत्र ने कहा कि,

“हार्दिक पांड्या को गंभीर मोच आई है, लेकिन सौभाग्य से फ्रेक्चर नहीं हुआ है। बीसीसीआई की मेडिकल टीम अधिकतम एहतियात बरतना चाहती है। उनके अगले दो से तीन मैच से बाहर रहने की संभावना है। टीम चाहती है कि वह नॉकआउट चरण के लिए पूरी तरह फिट हों।”

इन प्लेयर्स को मिला मौका

मालूम हो कि हार्दिक पांड्या की गैरमौजूदगी में न्यूजीलैंड के खिलाफ रोहित शर्मा ने सूर्यकुमार यादव को प्लेइंग 11 का हिस्सा बनाया था। इस दौरान धाकड़ बल्लेबाज कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए थे। वह 2 रन बनाकर पवेलियन लौट गए थे। वहीं, गेंदबाजी के लिए कप्तान ने मोहम्मद शमी को मौका दिया था।

टीम इंडिया के लिए शमी उपयोगी साबित हुए। तेज गेंदबाज ने कीवियों के खिलाफ घातक गेंदबाजी करते हुए 5 विकेट चटकाए। इस शानदार प्रदर्शन के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया।

मोहम्मद शमी को मौका मिलना मुश्किल

गौरतलब है कि भारत बनाम इंग्लैंड मैच में मोहम्मद शमी को प्लेइंग 11 से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है। इसका कारण लखनऊ की पिच है। दरअसल, इस पिच पर स्पिनर्स को ज्यादा मदद मिलती है। ये पिच धीमी गति के गेंदबाजों के लिए उपयोगी साबित होती है।

ऐसे में भारतीय कप्तान रविचंद्रन अश्विन को हार्दिक पांड्या की जगह प्लेइंग 11 में मौका दे सकते हैं। वहीं, कुलदीप यादव का टीम में रहना तय है। उन्होंने अपने खेल से सभी को प्रभावित किया है।

ALSO READ: “ओंस की वजह से जीती टीम इंडिया” पत्रकार ने लगाया भारतीय टीम पर आरोप तो मोहम्मद शमी ने बंद की प्रेस कांफ्रेंस में बोलती