निकोलस पूरन का दर्द, कहा-

वेस्टइंडीज ने सात साल बाद भारत को किसी द्विपक्षीय सीरीज के लगातार दो मैच में हराया है. आज भारत और वेस्टइंडीज के बीच दूसरा टी-20 मैच खेला गया जिसमें वेस्टइंडीज ने भारत को 2 विकेट से हरा दिया. भारत और वेस्टइंडीज दोनों का प्रदर्शन साधारण ही रहा लेकिन मैच को अकेले निकोलस पूरन ने वेस्टइंडीज के तरफ कर दिया. पूरन ने 67 रनों की विस्फोटक पारी खेली जिसके लिए उनको मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड मिला.

मैं बहुत सारे गेम्स हारा हूं – निकोलस पूरन

पोस्ट मैच प्रजेंटेशन में बोलते हुए निकोलस पूरन ने कहा कि, ‘मैं संतुष्ट हूं कि मैंने प्रदर्शन किया. कुछ ऐसा जिसकी मैं पिछले कुछ वर्षों से तलाश कर रहा था, इसलिए वहां रहें और खेल खत्म करें. मैं सुसंगत रहना चाहता हूं. मैं बहुत मेहनत कर रहा हूं, मैंने बहुत सारी गलतियां की हैं, अपनी टीमों के लिए बहुत सारे गेम हारे हैं. मैं फैन्स का ज्यादा से ज्यादा मनोरंजन करना चाहता हूं. यह सकारात्मक और आश्वस्त होने के बारे में है.’

ऐसा रहा मैच

टाॅस जीतकर भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करने आई. भारत के तरफ से सलामी बल्लेबाज शुबमन गिल एक बार फिर फ्लाॅफ रहे. टी-20 फाॅर्मेट के नम्बर एक बल्लेबाज सुर्यकुमार यादव भी सिर्फ 1 रन बनाकर रन आउट हो गए. तिलक वर्मा के 51 और ईशान किशन के 27 रनों की मदद से भारतीय टीम ने 20 ओवर में 152 रन का स्कोर बनाया.

153 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज की शुरुआत अच्छी नही रही. पहले ही ओवल में भारतीय कप्तान हार्दिक पंड्या ने दो बल्लेबाज को आउट कर दिया था. भारत मैच में बढ़त बना रहा था लेकिन निकोलस पूरन ने 40 गेंदो में 6 चौके और 4 छक्के की मदद से 67 रन बनाए. पूरन के इस पारी से और अकील होसेन के अंतिम दो चौके से वेस्टइंडीज ने इस मैच को 2 विकेट से जीत लिया. वेस्टइंडीज पांच मैचों की टी-20 सीरीज में 2-0 से बढ़त बना चुकी है.

ALSO READ:‘अगर भारत के पास चहल, बिश्नोई, कुलदीप हैं तो हमारे पास निकोलस पूरन और हेटमायर हैं’, लगातार जीत के बाद बोले कप्तान रोवमैन पॉवेल