MANPREET SINGH GONI

एक खिलाड़ी अपने जीवन में हर प्रकार की समस्याओं से गुजरता है. कभी फॉर्म कभी फिटनेस तो कभी पारिवारिक समस्या. अक्सर भारत में हम सुनते हैं कि परिवार के लोगों ने किसी खिलाड़ी को सहयोग किया जिससे वह इस मुकाम तक पहुंच पाया. लेकिन बहुत कम यह सुनने में आता है कि परिवार के लोगों ने ही खिलाड़ी को गिरा दिया.

इस लेख में हम बात कर रहे हैं भारत के पूर्व हरफ़नमौला खिलाड़ी मनप्रीत गोनी की. मनप्रीत गोनी की मां ने उन पर प्रॉपर्टी हड़पने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था.

मां ने ही लगा दिया आरोप

रिपोर्ट के मुताबिक बताया जाता है कि मनप्रीत गोनी की पत्नी और उनके मां की आपस में कभी नही पटी. मनप्रीत गोनी की मां ने आरोप लगाते हुए कहा था कि,

‘उनका छोटा बेटा मनप्रीत गोनी उनके हिस्से की संपत्ति को हड़पना चाहता है. मनप्रीत से उन्हें जान का खतरा है. अगर उन्हें कुछ होता है, तो इसका जिम्मेदार मनप्रीत को ही माना जाएगा. इस काम में उनका पति और उनका बड़ा बेटा भी मनप्रीत का साथ दे रहे हैं.’

हालांकि इस बात की पुष्टि पुलिस नही कर पाई कि इस आरोप में सच्चाई कितनी है.

शुरूआत रही थी शानदार

मनप्रीत गोनी ने साल 2007 में पंजाब की टीम की तरफ से फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलना शुरू किया था. शुरुआत में उनका प्रदर्शन शानदार रहा था.

इस शानदार परफार्मेंस के दम पर मनप्रीत गोनी आईपीएल के सेलेक्टर्स का ध्यान अपनी ओर खींचने में कामयाब रहे. जब ऑक्शन हुआ तो चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने उन्हें खरीद लिया.

धोनी की अगुवाई में गोनी ने शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने 16 मैचों में 17 विकेट चटकाए थे. इसके बाद उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट में भी मौका दिया गया.

हालांकि यहां वह सिर्फ 2 मैच खेल पाए जिसमें उनके नाम 2 विकेट दर्ज है. वही आईपीएल में खेले 44 मैचों में उनके नाम 37 विकेट दर्ज है.

ALSO READ: 10 दिसम्बर से साउथ अफ्रीका के खिलाफ होने वाली टी20 सीरीज के लिए भारतीय टीम की घोषणा, सैयद मुश्ताक में धमाल मचाने वाले इन 5 खिलाड़ियों को मौका