Hardik Pandya

इस वक्त टीम इंडिया वेस्टइंडीज के खिलाफ पांच मैचों की टी-20 सीरीज खेल रही है, जिसका तीसरा मुकाबला टीम इंडिया ने जीत लिया है. हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने मैच खत्म होने के बाद उन्होंने वेस्टइंडीज के कप्तान को लेकर जो बयान दिया है, वह काफी चर्चा में आ चुका है.

हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने साफ तौर पर इस बात को कहा है कि आगे भी उनकी टीम 7 बल्लेबाजों के साथ खेलेगी और गेंदबाजी के मोर्चे पर वह किसी तरह का कोई समझौता नहीं करना चाहते हैं.

वेस्टइंडीज के कप्तान को दिया खुला चैलेंज

तीसरा मुकाबला जीतने के बाद हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) टीम के रणनीतियों पर चर्चा कर रहे थे. इसके बाद ही उन्होंने वेस्टइंडीज के कप्तान निकोलस पूरन को लेकर एक बहुत बड़ी बात कही. उन्होंने बताया कि

“वह बल्लेबाजी के लिए आगे नहीं आए, जिससे हमें तेज गेंदबाजों को रोकने में मौका मिला और अक्षर पटेल को चार ओवर करने का मौका मिला. अगर निकोलस पूरन मारना चाहते हैं, तो उसे मुझे मारने दो, यह प्लान था. मुझे ऐसी प्रतिस्पर्धा पसंद है. मुझे पता है अगर ये वह सुनेगा तो चौथी टी20 में तैयारी के साथ आएगा.”

इन खिलाड़ियों के कमाल से जीती टीम इंडिया

आपको बता दें कि शुरुआती दो मुकाबले हारने के बाद तीसरे टी-20 में टीम इंडिया ने वापसी की है और 7 विकेट से जीत हासिल की है. इसके बाद हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने कहा कि

“अंतिम एकादश में बल्लेबाजी के साथ विकल्प काफी है. एक समूह के रूप में हमने सात बल्लेबाजों के साथ बल्लेबाजी करने का फैसला लिया है. अगर बल्लेबाज रन बनाते हैं तो आपको आठवीं नंबर पर किसी की जरूरत नहीं है.”

इसके अलावा उन्होंने सूर्यकुमार यादव की जमकर तारीफ की, जिन्होंने 44 गेंद पर 83 रन की पारी खेली. वहीं दूसरी ओर तिलक वर्मा ने 37 गेंद में 49 रन बनाए जिस वजह से टीम इंडिया यह लक्ष्य हासिल करने में सफल रही.

ALSO READ: IND vs WI: सेल्फिश हार्दिक पंड्या, धोनी और विराट के साथ खेलकर भी कुछ नहीं सीखा, इस घटिया हरकत की उम्मीद नहीं थी