‘जब पहली बार लगा अब नहीं खेलूंगा, महेंद्र सिंह धोनी ने पूरी टीम को मुझसे किया था अलग’, सचिन तेंदुलकर ने सुनाया किस्सा

SACHIN TENDULKAR AND MS DHONI

सचिन तेंदुलकर ने अपना आखिरी टेस्ट मैच साल 2013 में खेला था, जो कि उनका 200वां टेस्ट मैच था। यह मैच सचिन तेंदुलकर ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला था जहां पर वेस्टइंडीज के खिलाफ यह मुकाबला हुआ था। इसके बाद सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट से रिटायरमेंट ले लिया था। अपने एक इंटरव्यू के दौरान सचिन तेंदुलकर ने बताया कि, कैसे महेंद्र सिंह धोनी ने सभी खिलाड़ियों से उन्हें अलग कर दिया था।

रिटायरमेंट के समय उनकी मां, पत्नी और पूरा परिवार स्टेडियम भी पहुचां था, जो कि उनके लिए बहुत ही भावुक पल था। उन्होंने बताया कि, उन्हें यह कब लगा कि, वे अब नहीं खेल सकेंगे। आइए जानते हैं उन्होंने अपने इंटरव्यू में क्या-क्या बातें कहीं।

SACHIN TENDULKAR LAST TIME BATTING

क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने हाल ही में ‘ऑकट्री स्पोर्ट्स’ यूट्यूब चैनल को इंटरव्यू दिया जहां पर उन्होंने कहा कि,

“रिटायरमेंट के समय मुझे पहली बार ऐसा लगा था कि, अब मुझसे यह नहीं हो पाएगा और मैं अब नहीं खेल पाऊंगा। भाषण देने के दौरान मैंने अपने साथ पानी की बोतल भी रखी थी। महेंद्र सिंह धोनी ने जब सभी खिलाड़ियों को एक तरफ बुलाया और मुझसे कहा कि, पाजी कृपया 2 मिनट के लिए थोड़ा दूर हो जाइए। उस दौरान वे लोग कुछ योजना बना रहे थे। उस समय तक मुझे नहीं पता चला कि, यहां कुछ हो रहा है। मुझे लगा कि अब वक्त आ गया है, इसके बाद फिर मैं ड्रेसिंग रूम की तरफ वापस चला गया। वह पल मेरे लिए काफी इमोशनल था। मैं ड्रेसिंग रूम की तरफ चला गया और उस समय काफी ज्यादा भावुक हो गया था। मैं वहां अकेले जाकर बैठ गया”।

SACHIN TENDULKAR

सचिन तेंदुलकर के आखिरी टेस्ट मैच में उनका पूरा परिवार हिस्सा लेने के लिए पहुंचा था। उस दौरान सचिन तेंदुलकर के साथ-साथ उनका पूरा परिवार काफी ज्यादा भावुक था। इस बारे में बात करते हुए सचिन तेंदुलकर ने बताया कि,

“मेरी मां मैच देखने के लिए आई थी। उस समय मैं बहुत ज्यादा भावुक हो गया था। उससे पहले सभी मुझे पहले ही लाइफ भी देख चुके थे, लेकिन मेरी मां ही सिर्फ अकेली ऐसी थी जिन्होंने मुझे फ्रेंडली मैच भी खेलते नहीं देखा था। वह काफी ज्यादा परेशान भी हो जाती है, मैं नहीं चाहता था कि कोई वहां पर बैठा रहे”।

उन्होंने बताया,

“अगर कोई भी मेरे परिवार से आता है तो मैं कहता हूं कि खुद अलग हो जाओ। मैं मैच खेलने के दौरान मैच पर ध्यान देना चाहता हूं, उनके तरफ नहीं देखना! ना तो उधर फोकस करना चाहता था। ये भी नहीं सोचता कि, वह लोग सेलिब्रेट कर रहे हैं कि नहीं”।

मेलबर्न में बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के दौरान सचिन तेंदुलकर की पत्नी अंजलि भी पहुंची थी। बता दें, इसके बाद अंजलि सीधे आखिरी टेस्ट मैच में ही हिस्सा लेने पहुंची थी।

 

SACHIN TENDULKAR FAIRWELL

सचिन ने पत्नी के बारे में बात करते हुए बताया कि,

” मैं उस दौरान जब खेलने के लिए मैदान में उतरा और ब्रेट ली ने पहली बॉल फेंकी तो मैंने डाउन द लेट खेला, शॉट लगाया और एडम गिलक्रिस्ट ने डाइव लगाकर कैच ले लिया। इसके बाद मेरी पत्नी अंजलि उठकर चली। गई वैसे तो ज्यादातर पत्नियां ऑस्ट्रेलिया में 2004 में मैच देखने के लिए आती थी, लेकिन अंजलि कभी नहीं जाती थी। अंजलि से कहा कि, चलो कुछ भी नहीं होगा लेकिन उन्होंने कहा कि मैं थोड़ी सी सुपरस्टीटियस हो गई हूं। लेकिन फिलहाल बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के समय फिर अंजलि वापस मैच देखने नहीं आई”।