युजवेंद्र चहल

टी20 विश्वकप 2021 में भारत के प्रतियोगिता में खराब प्रदर्शन के चलते बाहर होने के बाद भारतीय टीम का कई तरीके से आंकलन किया गया। टीम में कम अनुभव, खराब फॉर्म से जूझ रहे और अनफिट खिलाड़ियों को जगह दी गई थी। लेकिन इसी के बाद अपने एक साक्षात्कार में टीम इंडिया के गेंदबाज युजवेंद्र चहल ने कुछ ऐसा कह दिया जोकि सुर्खियों की वजह बन गया। आइए जानते है पूरी बात…

क्या कहा यजुवेंद्र चहल ने

एक अंग्रेजी अखबार से साक्षात्कार के दौरान यजुवेंद्र चहल ने काफी बाते साझा की। उसमे विश्वकप के लिए टीम चयन, गेंदबाजी और रोहित वा विराट से संबंधों के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा

” अगर आप आईपीएल देखे तो मैं हमेशा चोटी का ही गेंदबाज रहा हू। अगर रशीद खान की बात करें तो वो अलग श्रेणी के गेंदबाज है। उनकी लीग ही अलग है। शेन वार्न और मुरलीधरन जिस तरह से गेंदबाजी के बारे में बात करते थे। मैं उसी तरह माइंडसेट पर भरोसा करता हू। मैं उन्हीं वेरिएंस पर भरोसा कर सकता हूं जो मेरे पास है। जो मैं नहीं हू मै वो नही कर सकता हूं।”

उसके बाद चहल ने अपनी सफलता के बारे में बताते हुए कहा कि ” मैने टी20 फॉर्मेट में 250 विकेट हासिल किए है। इसलिए मेरा मेन स्किल बॉलिंग का है। मेने उस तरह की गेंदबाजी के बारे में नही सोचा जो मैं नहीं था। हालांकि मैं थोड़ा कंफ्यूज था लेकिन फिर मैने अपने हिसाब से ही बॉलिंग की। अगर आप नजर डाले तो पायेंगे शार्दुल ठाकुर के बाद मैने ही भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लिए हैं। इकोनॉमी रेट ज्यादा है लेकिन ये भी देखना होगा कि मेने किस तरह के बल्लेबाजों के सामने बालिंग की है। उस और बल्लेबाजों को भी श्रेय देना होगा।”

ALSO READ: “अच्छा सिला दिया तूने मेरे प्यार का….” युजवेंद्र चहल को टी20 विश्व कप से बाहर करने के बाद विराट कोहली पर भड़के फैंस

विश्वकप टीम का हिस्सा नहीं

यजुवेंद्र चहल लगातार चार सालों से भारतीय टीम के साथ लिमिटेड ओवर्स की क्रिकेट का हिस्सा थे। लेकिन विश्व कप की स्क्वाड में शामिल नहीं किए गए। जिस पर पहले तो उन्हे यकीन नही हुआ फिर उन्होंने अपना ध्यान फोकस किया। अपने इंटरव्यू में उन्होंने कहा

” मैं पिछले चार साल से टीम का हिस्सा था। उसके बाद मुझे इतने बड़े टूर्नामेंट के लिए ड्रॉप कर दिया गया। मुझे बहुत बुरा लगा। स्क्वाड अनाउंस होने के दो तीन दिनों तक मुझे समझ में ही नही आया फिर मुझे पता चला कि आईपीएल 2021 का सेकंड हाफ होने वाला है। मैं ज्यादा समय तक दुखी नहीं रहा सकता क्योंकि उसका असर आईपीएल में दिख जाता। मेरी पत्नी, परिवार और प्रसंशको कई पोस्ट के जरिए मुझे बहुत मोटिवेट किया”।

चहल ने सेलेक्टर्स के गलत टीम चयन के बारे में घुमा कर जवाब दिया कि ” अगर आप देखे तो कलाई स्पिनर्स ने इस विश्वकप में अच्छा प्रदर्शन किया है। बीते सालो में कलाई के स्पिनर्स ने अच्छा कमाल किया है। खासकर जब यूएई जैसी जगह पर कोई मैच होता है। यूएई में कलाई के गेंदबाज कमाल कर रहे हैं”।

न्यूजीलैंड की सीरीज में फिर मिला मौका

हालांकि 17 नवंबर से होने वाली सीरीज में चहल को जगह दी गई है। वो न्यूजीलैंड के साथ होने वाली तीन मैचों की सीरीज के लिए भारत की स्क्वाड में चुने गए हैं।

ALSO READ: ICC T20 WC: ये चार खिलाड़ी होते टीम इंडिया में तो आज टी20 वर्ल्ड कप का कुछ अलग नजारा होता