TEAM INDIA WORLD CUP 2023 BCCI

2011 में भारतीय टीम अपने घर पर चैंपियन बनी थी. ठीक उसी प्रकार से इस साल भी भारत का प्रदर्शन शानदार हो रहा है. अब तक खेले 6 मुकाबलों में भारतीय टीम ने सभी में जीत प्राप्त किया है. टीम के सभी खिलाड़ी टाॅप फाॅर्म में चल रहे हैं. लेकिन अगर अब तक खेले गए मैचों एक नकारात्मक पहलू भी सामने आ रहा है. श्रेयस अय्यर अभी भी इस टूर्नामेंट में बहुत साधारण प्रदर्शन कर रहे हैं.

इंग्लैंड के खिलाफ श्रेयस अय्यर हुए थे फ्लॉप

लखनऊ के मुश्किल पिच पर भारत की शुरुआत इंग्लैंड के खिलाफ बहुत साधारण रही थी. भारत ने 27 रन बनाए थे और शुभमन गिल और विराट कोहली का विकेट खो दिया था.

इस मुश्किल स्थिति में श्रेयस अय्यर बल्लेबाजी करने आए, सबको उम्मीद थी कि वह कप्तान रोहित के साथ मिलकर वह एक बड़ी साझेदारी निभाएंगे और भारत को इस मुश्किल से उबारेंगे. लेकिन 16 गेंदो में चार रन बनाकर श्रेयस बड़ा साथ खेलने के चक्कर में कैच आउट होकर पवेलियन लौट गए.

श्रेयस ने जिस प्रकार का शॉट खेला उसे देखकर साफ प्रतीत हो रहा था कि श्रेयस जिम्मेदारी लेना नहीं चाह रहे हैं. दबाव में उनका बल्ला खामोश हो जा रहा है.

टूर्नामेंट में कर रहे हैं साधारण प्रदर्शन

विश्व कप में भारत अपना पहला मैच ऑस्ट्रेलिया से खेल रही थी. इस मैच में श्रेयस अय्यर बिना खाता खोले पेवेलियन लौट गए. दूसरे मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ अय्यर के बल्ले से नाबाद 25 रन निकले थे.

वहीं पाकिस्तान के खिलाफ मैच में श्रेयस अय्यर की बल्लेबाजी बेहतर रही और उन्होंने नाबाद 53 रन बनाए. लेकिन इसके बाद बांग्लादेश के खिलाफ 19 रन, न्यूजीलैंड के खिलाफ 33 रन और इंग्लैंड के खिलाफ सिर्फ चार रन बनाकर श्रेयस अय्यर ने अपना स्थान कमजोर कर लिया है.

इस खिलाड़ी को नम्बर चार पर खिलाओ

ज्यादातर क्रिकेट एक्सपर्ट का मनना है कि नंबर चार पर ईशान किशन को मौका देना चाहिए. अव्वल तो ईशान शानदार फार्म में है और दूसरे वह बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं.

बाएं हाथ के बल्लेबाज से गेंदबाजों को लगातार बेहतर गेंदबाजी करनी पड़ती है, क्योंकि लेंथ बदलना पड़ता है. ईशान किशन के अलावा केएल राहुल भी हैं जो नंबर चार पर बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं.

ALSO READ:“भारतीय टीम की गेंदबाजी……” मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह को लेकर ये क्या बोल गये पाकिस्तानी दिग्गज वसीम अकरम