DLS METHOD

भारत ने बांग्लादेश को पांच रनों से हरा दिया है. भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 184 रनों का स्कोर खड़ा किया था. यह मैच बारिश से प्रभावित था, इसलिए लक्ष्य को फिर से बदला गया. बारिश के बाद बांग्लादेश को 16 ओवर में 151 रन का लक्ष्य दिया गया. बांग्लादेश इस लक्ष्य का पीछा नही कर पाई और मैच 5 रन से हार गई.

इस मैच में डकवर्थ लुईस नियम का पालन किया गया, अब सबके मन में यह दिलचस्पी रहती है कि यह डकवर्थ लुईस नियम आखिर है क्या? तो आइए इस लेख में जानते हैं कि डकवर्थ लुईस नियम क्या और यह कैसे काम करता है.

क्या है डकवर्थ लुईस नियम

डकवर्थ लुईस नियम इंग्‍लैंड के स्‍टेटिक्‍स एक्‍सपर्ट फ्रैंक डकवर्थ और टोनी लुईस ने रचा था. साल 2015 में स्टीव स्टर्न ने भी एक महत्वपूर्ण सुधार किया, जिससे के बाद अब यह नियम DLS के नाम से जाना जाता है.

इस नियम को 1997 से प्रयोग में लाया जा रहा है. लिमिटेड ओवर के क्रिकेट में अगर मैच बारिश से प्रभावित रहता है. इस नियम को काम में लाते हैं. दरअसल DLS के फार्मूला है टीम 2 का नया लक्ष्‍य = टीम 1 का स्‍कोर x (टीम 2 के रिसोर्स/ टीम 1 के रिसोर्स)

इस नियम में दोनो टीमों को मैच शुरू होने से पहले 100 प्रतिशत का एक रिसोर्स दिया जाता है. जो टीम जितना ओवर खेलती है, उसके हिसाब से उसको रिसोर्स में कटौती किया जाता है. उसके बाद टीम 1 के टोटल को टीम 1 और टीम 2 के टोटल को भाग से गुणा कर दिया जाता है.

ALSO READ:6 6 6 6 6… 4 4 4 4 4…मात्र 55 गेंदों में इस खिलाड़ी ने ठोके 126 रन, फैंस ने कहा मिल गया अगला सहवाग

तो भारत ने बांग्लादेश को ऐसे हराया

बारिश से पहले भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 184 रन बनाया था. इसके बाद बांग्लादेश ने भी बल्लेबाजी की और 7 ओवर में 66 रन बना लिए थे. इसके बाद बारिश शुरू हुई. बारिश के समय बांग्लादेश ने अपना 7 ओवर का रिसोर्स यूज कर लिया था, इसलिए उनके 4 ओवर काट दिए गए. वहीं भारत ने 184 रनों में 66 रन खर्च कर लिए थे, तो उनको भी 34 रनों को काटना पड़ा. इस तरह से काम करता है यह डकवर्थ लुईस और स्टर्न नियम.

ALSO READ: मिताली राज ने की भविष्यवाणी, इन 4 टीमों के बीच खेला जाएगा फाइनल, ये 2 टीम बनाएंगी फाइनल में जगह