वो दो पाकिस्तानी तेज गेंदबाज तो मुझे स्पिनर लग रहे थे, वीरेंद्र सहवाग ने भारत-पाक मैच से पहले सुनाया मजेदार किस्सा
वो दो पाकिस्तानी तेज गेंदबाज तो मुझे स्पिनर लग रहे थे, वीरेंद्र सहवाग ने भारत-पाक मैच से पहले सुनाया मजेदार किस्सा

Virender Sehwag story about India Vs Pakistan : भारत बनाम पाकिस्तान का मैच एशिया कप 2022 के मंच पर बस दो दिन की दूरी पर है, लेकिन आज हम आपको इस पाकिस्तान के खिलाफ रन बरसाने वाले टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज का एक किस्सा बताने जा रहे हैं। जोकि खिलाड़ी ने खुद ही बताया है। पाक टीम के खिलाफ रनों की बरसात के कारण इस खिलाड़ी को “मुल्तान का सुल्तान” भी कहा जाता है।

टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने पाकिस्तान के खिलाफ खूब रन अपने नाम किए हैं और मुल्तान टेस्ट में तीसरा शतक भी ठोका था। वीरेंद्र सहवाग ने इस पारी से जुड़ा एक शानदार किस्सा भी सुनाया है। जानिए क्या है वो मजेदार कहानी…

विरेंद्र सहवाग को कहा जाता है मुल्तान का सुल्तान

एशिया कप 2022 से पहले टीम इंडिया के कई दिग्गजों के साथ स्टार स्पोर्ट्स मैच की बातें और किस्से साझा कर रहा है। इसी क्रम में पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय क्रिकेट टीम को पहला मैच एशिया कप 2022 में खेलना है, जिसके बाद वीरेंद्र सहवाग ने चैनल पर भारत vs पाकिस्तान मैच से जुड़े एक किस्से को शेयर किया है।

Also Read : शेन वॉटसन ने एशिया कप 2022 के विजेता को लेकर की भविष्यवाणी, कहा इस बार ये टीम बनेगी चैम्पियन

जहां वीरेंद्र सहवाग ने कहा

“इंडिया बनाम पाकिस्तान मैच की मेरी फेवरेट मेमोरी मुल्तान की 309 रनों की पारी है। किसी को उम्मीद नहीं थी कि सहवाग जैसा बल्लेबाज तिहरा शतक लगाएगा। जब मैं खेलता था तो मीडिया में लोग लिखते थे कि सहवाग टेस्ट खिलाड़ी नहीं है और बड़ी पारी नहीं खेल सकता। उस पारी की सबसे अच्छी बात यह थी कि उससे पहले की पाकिस्तान के खिलाफ चार पारियों में मैंने रन नहीं बनाए थे”।

पाक टीम के दो तेज गेंदबाज तो स्पिनर कहा वीरेंद्र सहवाग ने

वीरेंद्र सहवाग ने पाकिस्तान के साथ किस्से को साझा करते हुए कहा कि

“मुझे ऐसा लग रहा था कि अब मैंने अगर रन नहीं बनाए तो मुझे टीम से ड्रॉप कर दिया जाएगा। तो मैंने सोच लिया था कि मुझे 30-40 रनों की पारी को बड़ी पारी में तब्दील करना है। मुझे नई गेंद का डर था क्योंकि शोएब अख्तर और मोहम्मद सामी दोनों काफी तेजी से गेंद फेंकते थे।

शोएब अख्तर करीब 155 और मोहम्मद सामी करीब 145 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकते थे। एक बार दोनों का स्पैल पूरा हो गया तो मेरे लिए चीजें आसान हो गई थीं। अब्दुल रज्जाक और शब्बीर अहमद जब गेंदबाजी के लिए आए तो मुझे ऐसा लगा कि स्पिनर गेंद फेंक रहे हैं”।

Also Read : Asia Cup 2022: 28 अगस्त को टी20 विश्व कप 2021 का पाकिस्तान से बदला लेने उतरेगा भारत, जानिए कब, कहां और कैसे फ्री में देखें लाइव