भारतीय क्रिकेट टीम में रन मशीन के नाम से पहचाने जाने वाले विराट कोहली के विषय में उनके साथी खिलाड़ी में एक खुलासा किया है। जिसमें उन्होंने बताया है कि जब विराट कोहली के बल्ले से रन नहीं बनते हैं। तब वो उन दिनों अकेले रोते थे। विराट कोहली भले ही दो साल से ज्यादा समय से कोई शतक न बना सकें हों। लेकिन 70 शतक और उनकी पारियां उन्हें विश्व चैंपियन बनाती है। विराट कोहली इस समय दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही सीरीज पर से आराम कर हैं। जिसके बाद खिलाड़ी को टेस्ट सीरीज इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज खेलनी है। उनके फैंस को विराट कोहली के 71वें शतक की उम्मीद है।

विराट कोहली के अंडर 17 के साथी खिलाड़ी ने बताई कई बातें

भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज खिलाड़ी विराट कोहली जब अंडर 17 और अंडर 19 की टीम का हिस्सा थे। तब वो खेल को लेकर काफी उतावले रहते थे। ऐसा उनके साथी खिलाड़ी का कहना है। अंडर 17 के विराट कोहली के साथी और क्रिकेटर प्रदीप सांगवान ने एक वीडियो में विराट कोहली के रन ना बनने के बाद रोने की बात कही है। जब घरेलू टीम से प्रदीप सांगवान और विराट कोहली एक ही टीम का हिस्सा थे। तब के बारे में बात करते हुए प्रदीप सांगवान ने बताया है कि जब विराट कोहली रन नहीं बना पाते थे। तब वो रात को रोते थे। वो खेल को लेकर काफी डेस्परेट थे।

Also Read : IND vs SA: चोटिल कुलदीप यादव की जगह इन 3 खिलाड़ियों को बीसीसीआई दे सकती है साउथ अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया में मौका, नंबर 2 सबसे बड़ा दावेदार

प्रदीप सांगवान ने वीडियो में बताया कि,

“हम अंडर 17 का एक मैच पंजाब में खेल रहे थे। विराट कोहली इसके पहले को पिछली 2-3 पारियों में बड़ा स्कोर नहीं बना पाए थे। हमारी टीम में अजीत चौधरी नाम के एक कोच थे। जोकि विराट कोहली को ‘चीकू’ कहकर बुलाते थे। विराट हमारी टीम का एक मुख्य खिलाड़ी था। अजीत सर ने विराट की टांग खिचने के लिए प्लान बनाया। जिसमें हमें भी जोड़ लिया। उन्होंने कहा चलो विराट को बता दें कि वह अगले मैच में नहीं खेलेंगे”।

रात भर नहीं सो पाए थे विराट कोहली

खेल के लिए विराट कोहली की भावना और उनका पैशन मैदान पर साफ नजर आता है। विराट कोहली खेल को सबसे ऊपर मानते हैं। तभी जब उनके पिता का देहांत हुआ था, तब भी खिलाड़ी मैदान कर उतरा था। लेकिन जब कोच ने उनके साथ मजाक किया तब वो रात भर सो नहीं सके। प्रदीप सांगवान ने बताया,

“टीम मीटिंग में कोच सर ने विराट के नाम नही लिया। जिसके बाद वो कमरे में जाकर रोने लगा.. । विराट इतना भावुक हो गए की सीधे कोच राजकुमार सर को भी फोन किया और रोने लगे। और कहा कि मैने 250 रन बनाए है फिर भी मुझे ड्रॉप कर दिया। विराट फिर मेरे पास आया और पूछने लगा मुझे सांगवान बताओ, क्या गलत है? मैंने इस सीजन में इतने रन बनाए। मैंने उससे कहा हां हां, यह बहुत गलत है। जिसके बाद वो पूरी रात सो नहीं सका। मैने कहा तो उसने कहा नहीं, मैं सोना नहीं चाहता। जब मैं नहीं खेल रहा हूं तो सोने का क्या मतलब है?” फिर, मैंने उससे कहा कि वह खेल रहा है। ये सब कुछ बस एक शरारत है”।

Also Read : इन 3 खिलाड़ियों पर दांव लगा कर गौतम गंभीर से हुई चूक, IPL 2023 में लखनऊ करेगी सबसे पहले रिलीज!