KL RAHUL

टी-ट्वेंटी विश्व कप में केएल राहुल का प्रदर्शन बहुत ही साधारण रहा. उन्होंने 6 मुकाबले खेले जिसमें उनके बल्ले से सिर्फ 2 अर्धशतक आया. महत्वपूर्ण मुकाबले में केएल राहुल संघर्ष करते हुए दिखे. अगर स्ट्राइक रेट की भी बात करें तो राहुल किसी भी मुकाबले में भारत को तेज शुरुआत देने में असमर्थ रहे. ऐसा ही कुछ हम एशिया कप में भी देख चुके हैं.

ख़ासकर पाकिस्तान के खिलाफ केएल राहुल का बल्ला शांत रहता है, जिससे भारत के मीडिल आर्डर पर और भी दबाव आ जाता है. इस लेख में हम बात करने वाले हैं ऐसे दो खिलाड़ियों की जो केएल राहुल की जगह ले सकते हैं.

पृथ्वी शॉ

पृथ्वी शॉ घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन भारतीय टीम मैनेजमेंट उनको लंबे समय से नजरअंदाज कर रही है. क्रिकेट एक्सपर्ट्स कहते हैं कि पृथ्वी के पास वीरेंद्र सहवाग जैसी आक्रमकता और सचिन तेंदुलकर जैसा क्लास है. हाल में हुए सैय्यद मुश्ताक अली ट्राॅफी में पृथ्वी शॉ ने शानदार शतक जड़ा था.

आईपीएल में भी पृथ्वी शॉ को हाई-रेट किया जाता है, वह दिल्ली कैपिटल्स के ओपनर हैं. पृथ्वी शॉ ने अबतक 92 टी-ट्वेंटी मुकाबले खेले हैं जिसमें 151.67 की स्ट्राइक रेट से 2401 रन बनाए हैं. इस दौरान पृथ्वी शाॅ ने 18 अर्धशतक और एक शतक भी जड़ा है.

ALSO READ: आईसीसी को मिला नया चेयरमैन, बीसीसीआई ने दिखाया अपना शक्ति प्रदर्शन, जय शाह को मिला ये महत्वपूर्ण पद

संजू सैमसन

संजू सैमसन कमाल के खिलाड़ी हैं. अभी दक्षिण अफ्रीका से हुए एकदिवसीय सीरीज में उन्होंने अपना क्लास दिखाया था. आईपीएल में वह राजस्थान रायल्स के कप्तान भी हैं. संजू सैमसन की सबसे प्रमुख क्षमता यह भी है कि वह विकेटकीपिंग में भी माहिर हैं.

अगर वह टीम से जुड़ते हैं तो भारत जो कार्तिक और पंत के विषय में फंसा हुआ है वह भी समस्या समाप्त हो जाएगी. संजू सैमसन का टी-ट्वेंटी कैरियर शानदार रहा है.

उन्होंने अब तक 226 मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने 132.01 की स्ट्राइक रेट से 5612 रन बनाए हैं. उनके बल्ले से 35 अर्धशतक और 3 शतक भी निकले हैं.

ALSO READ:  टीम इंडिया में शमी-भुवनेश्वर की जगह लेंगे ये 2 खूंखार बॉलर? जहीर खान ने भी माना इन दोनों का लोहा