IND vs SL

क्रिकेट को एक ऐसा खेल माना जाता है जहां हर रोज कोई नया रिकॉर्ड बनाया है तो कोई काफी पुराना रिकॉर्ड टूटता है। फिर कहा भी जाता है कि रिकॉर्ड बनते ही टूटने के लिए हैं। लेकिन क्रिकेट के कुछ ऐसे खिलाड़ी है जिनका कद इतना महान समझा जाता है कि उन्हें रिकॉर्ड से भी परे खिलाड़ी माना जाता है। लेकिन उनके नाम भी कुछ ऐसे रिकॉर्ड है जिसमे जो हासिल कर सके, इन रिकार्ड्स में अपना  नाम लिखने के बाद खिलाड़ी का कद और भी बड़ा हो जाता। जानिए क्या है वो रिकॉर्ड…

सचिन तेंदुलकर : 100 शतक लेकिन क्रिकेट के घर लॉर्ड्स में नहीं एक भी

सचिन तेंदुलकर

क्रिकेट के भगवान और भारत रत्न से सम्मानित सचिन तेंदुलकर ( Sachin Tendulkar) के नाम 100 शतक का रिकॉर्ड हैं। सचिन तेंदुलकर के 24 साल के करियर में सचिन तेंदुलकर ने 34 हजार से ज्यादा रन बनाए हैं। दुनिया के करीब हर मैदान कर उनका के शतक जरूर होगा ऐसा माना जाता है। इंग्लैंड की धरती पर खिलाड़ी ने सात शतक बनाए हैं। लेकिन क्रिकेट का घर जिस मैदान को कहा जाता है। यानी को लॉर्ड्स के मैदान पर सचिन तेंदुलकर का सबसे बड़ा स्कोर 37 रहा है। इस मैदान पर सचिन तेंदुलकर की एवरेज 21 की रही है।

वीरेंद्र सहवाग : मुल्तान के सुल्तान तीसरे ट्रिपल सेंचुरी से चुके

सचिन सहवाग

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग की विस्फोटक पारियों ने गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाई है। वीरेंद्र सहवाग भारतीय टीम साथ ही साथ विश्व क्रिकेट में भी सबसे बेहतरीन विस्फोटक सलामी बल्लेबाज रहें हैं। मुल्तान के सुल्तान नाम से जाने जाने वाले वीरेंद्र सहवाग ने पाकिस्तान और साउथ अफ्रीका के खिलाफ ट्रिपल सेंचुरी बनाई है। लेकिन श्रीलंका के खिलाफ जब 2009 में वो 293 पर थे, तब मुथैया मुरलीधरन ने मात्र 7 रन से इस खिलाड़ी को आउट करके तीसरा ट्रिपल सेंचुरी बनाने से रोक दिया। नहीं तो वीरेंद्र सहवाग तीन ट्रिपल सेंचुरी बनाने वाले पहले खिलाड़ी बन जाते।

महेला जयवर्धने : 400 का ब्रायन लारा का रिकॉर्ड

महेला जयवर्धने

टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में सबसे ज्यादा 400 रन का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा के पास है। इस रिकॉर्ड के 14 साल से ज्यादा समय बीत चुका है। हालाकि उनका 375 रन का रिकॉर्ड मैथ्यू हेडन ने 2003 में तोड़ दिया था। लेकिन उसके बाद 400 रन के रिकॉर्ड को कोई नही तोड़ सका हैं। लेकिन महेला जयवर्धने ने 2006 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ 374 रन की पारी खेली थी। लेकिन 26 रन पहले आउट होकर वो इस रिकार्ड को तोड़ने से रह गए।

ALSO READ:क्रिकेट इतिहास के वो 5 गेंदबाज जिन्होंने अपने पूरे करियर में नहीं डाली एक भी ‘NO BALL’, लिस्ट में एक भारतीय दिग्गज भी शामिल

कुमार संगकारा : 12वें डबल सेंचुरी से चुके

कुमार संगाकारा

कुमार संगकारा को विश्व के महान विकेटकीपर खिलाड़ियों की लिस्ट में रखा जाता है। उन्होंने 28 हजार से ज्यादा रन और 11 दोहरे शतक लगाए है। लेकिन अगर वो एक ओर डबल सेंचुरी लगा पाते तो डॉन ब्रॉडमैन के 12 डबल सेंचुरी के रिकॉर्ड को तोड़कर अपने नाम कर पाते।

महेंद्र सिंह धोनी : एशिया के बाहर नहीं शतक

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी ना सिर्फ भारतीय क्रिकेट टीम के सफलतम कप्तान हैं बल्कि विकेटकीपर की लिस्ट में कई रिकॉर्ड के साथ विश्व के बेहतरीन फिनिशर भी हैं। आईसीसी की तीनों ट्रॉफी जीतने वाले भावा के एक मात्र कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाम पर एशिया के बाहर एक भी शतक नहीं है। एशिया के बाहर 2007 में टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ 92 उनका बेस्ट स्कोर है।

ALSO READ:IPL Points Table Update: 50वां मैच के बाद इन 4 टीमों का प्लेऑफ का रास्ता हुआ साफ़, ये टीमें हो गयी बाहर