ऐसे 5 क्रिकेटर जिन्हें संन्यास के बाद वापसी के बारे में एक बार ज़रूर सोचना चाहिए, लिस्ट में 2 भारतीय खिलाड़ी
ऐसे 5 क्रिकेटर जिन्हें संन्यास के बाद वापसी के बारे में एक बार ज़रूर सोचना चाहिए, लिस्ट में 2 भारतीय खिलाड़ी

क्रिकेट एक मनोरंजित करने वाला खेल है. इस खेल में कई खिलाड़ी आते हैं और एक वक़्त पूरा होने के बाद संन्यास लेकर चले जाते हैं. कुछ खिलाड़ी लोगों के दिल में ऐसी अपनी छाप छोड़ जाते हैं, जिन्हें फैंस भुला नहीं पाते हैं. उनके रिटायर होने के बाद भी उन्हें वैसे ही याद किया जाता है जैसे किसी खेलते हुए खिलाड़ी को किया जाता है. हम आपको ऐसे ही पांच खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके संन्यास लेने के बाद भी वापसी की मांग की जा रही है.

1. एबी डिविलियर्स

Ab de Villiers

साउथ अफ्रीका के पेट्रियो से आने वाले इस खिलाड़ी ने अपने अनोखे और शानदार खेल से सभी को अपना दीवाना बनाया है. एबी डिविलियर्स(AB DE VILLIERS) के पास खेलने का एक अलग ही अंदाज़ था. उन्हें मिस्टर 360 कहा जाता था क्योंकि उनके पास हर दिशा में कलात्मक शॉट्स खेलने की क्षमता थी.

साल 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ अपना इंटरनेशनल डेब्यू करने वाले एबी डिविलियर्स ने साल 2018 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहे दिया. डिविलियर्स ने अपने करियर में 114 टेस्ट, 228 वनडे और 78 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने क्रमश: 8765, 9577 और 1672 रन बनाए हैं. उनके संन्यास लेने के बाद से ही फैंस लगातार उनकी वापसी की मांग कर रहे हैं.

2. डेल स्टेन

Dale Styen

मशहूर साउथ अफ्रीकी तेज़ गेंदबाज़ डेल स्टेन(DALE STEYN) का पूरी दुनिया में डंका बजता था. स्टेन अपनी अपनी तेज़ गेंदबाज़ी से एक नया दौर लेकर आए थे. उनकी सटीक लाइन लेँथ, परफेक्ट यॉर्कर औऱ गज़ब की तेज़ी के साथ स्विंग ने लोगों को अपना दीवाना बनाया था. स्टेन साल 2004 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था.

उन्हें ‘स्टेन गन’ के नाम से जाना जाता था. उन्होंने साल 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहे दिया था. अफ्रीका के लिए स्टेन ने 93 टेस्ट मैचों में 439, 125 एकदिवसिय मैचों में 196 और 47 टी20 मैचों में 64 विकेट अपने नाम किए हैं. स्टेन के संन्यास लेने के बाद से ही लगातार उनकी वापसी की मांग उठती रही है.

ALSO READ:दुनिया की बेस्ट ऑलराउंडर बन सकते हैं हार्दिक पांड्या, बस माननी होगी यह सलाह, Shoaib Akhtar ने खुद दिया सुझाव

3. लासिथ मलिंगा

लसिथ मलिंगा

श्रीलंकन तेज़ गेंदबाज़ लासिथ मलिंगा(LASITH MALINGA) ने अपनी सटीक यॉर्कर्स से सभी को अपना कायल किया है. उनकी जैसी परफेक्ट यॉर्कर फेंकने वाले क्रिकेट जगत को अभी तक कोई नहीं मिला. साल 2014 में उनकी कप्तानी में श्रीलंका ने उनकी कप्तानी में टी20 वर्ल्ड कप जीता था. मलिंगा ने साल 2004 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेब्यू किया था और साल 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहे दिया था. उन्होंने श्रीलंका के लिए 30 टेस्ट मैचों में 101 विकेट, 226 वनडे मैचों में 338 और 84 टी20 इंटरनेशनल में 107 विकेट अपने नाम किए हैं.

ALSO READ:T20 World Cup 2022 के लिए ऐसी होगी भारतीय टीम, इन खिलाड़ियों का पक्का वर्ल्ड कप खेलना, देखें पूरा स्क्वाड

4. सुरेश रैना

Suresh Raina

बाएं हाथ के भारतीय बल्लेबाज़ सुरेश रैना(SURESH RAINA) ने साल 2020 में महेंद्र सिंह धोनी के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहे दिया था. रैना एक शानदार बल्लेबाज़ के साथ-साथ एक वर्ल्ड क्लास फील्डर थे. उन्होंने साल 2005 में श्रीलंका के खिलाफ डेब्यू किया था. रैना टी20 क्रिकेट के शानदार बल्लेबाज़ थे. उन्हें आईपीएल में ‘मिस्टर आईपीएल’ के नाम से भी जाना जाता है. उन्होंने इंडिया के लिए कुल 18 टेस्ट मैच, 226 वनडे मैच और 78 टी20 मैच खेले, जिसमें उन्होंने 768, 5615 और 1605 रन बनाए.

ALSO READ:12 कप्तानों की कप्तानी में खेल चुका ये भारतीय खिलाड़ी अभी भी टीम में बरपा रहा है कहर, नाम जानकर हो जाएंगे हैरान

5. महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी

भारतीय क्रिकेट को ऊंचाईयों पर ले जाने वाले महेंद्र सिंह(MS DHONI) धोनी इकलौते ऐसे कप्तान बने, जिन्होंने टीम को 3 आईसीसी ट्रॉफी जिताई. धोनी अपनी फिनशर के तौर पर पूरी दुनिया में जाने जाते थे. वहीं, विकेटकीपरिंग में उनका कोई जवाब नहीं था. इंडिया के लिए साल 2004 में डेब्यू करने वाले धोनी ने साल 2019 में अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला था और साल 2020 में उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहे दिया था. धोनी के रिटायरमेंट के बाद उनकी वापसी को लेकर खूब मांग उठी थी.

ALSO READ:5 विदेशी खिलाड़ी जिनका भारतीय लड़कियों पर आया दिल, लिस्ट में 2 पाकिस्तानी भी हैं शामिल