babar azam and kane williamson

इस बार टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) के लिए पाकिस्तान ने सेमीफाइनल में अपनी जगह बना ली है. जहां 9 नवंबर को पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच पहला सेमीफाइनल मुकाबला खेला जाना है. इस वक्त आंकड़े देखें, जाएं तो यह पाकिस्तान के पक्ष में नजर आ रहे हैं. अभी तक देखा जाए तो दोनों टीमों के बीच जितने मुकाबले हुए हैं, उसमें पाकिस्तान को सबसे ज्यादा जीत हासिल हुई है.

जहां सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में अगर यही हाल रहा तो फिर पाकिस्तान आसानी से फाइनल में पहुंच सकती है. हालांकि टी-20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में कुछ भी कहा नहीं जा सकता क्योंकि यहां खेल को बदलने के लिए एक खिलाड़ी का फॉर्म में आना काफी है.

पाकिस्तान के पक्ष में हैं आंकड़े

टी-20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में सेमीफाइनल से पहले अगर बीते आंकड़ों पर एक नजर डालें तो न्यूजीलैंड और पाकिस्तान की टीम अभी तक टी20 इंटरनेशनल में कुल 28 बार एक-दूसरे के आमने-सामने हुई है, जिसमें पाकिस्तान को 17 और न्यूजीलैंड कोई 11 मैचों में जीत हासिल हुई है.

अगर टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) की बात करें तो दोनों एक दूसरे से 6 बार भिड़ी है. पाकिस्तान को 4 और न्यूजीलैंड को दो मैच में जीत हासिल हुई है. अगर साल 2007 टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) सेमीफाइनल की बात करें तो दोनों टीमों के बीच आमना-सामना हुआ था जिसमें पाकिस्तान ने जीत हासिल की थी.

रोचक होगा दोनों टीमों के बीच मुकाबला

टी-20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) के पहले सेमीफाइनल में एक तरफ केन विलियमसन की कप्तानी वाली न्यूजीलैंड होगी तो वहीं दूसरी ओर बाबर आजम अपनी ग्रीन आर्मी के साथ मैदान पर उतरने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.

टूर्नामेंट में लगातार शुरुआती दो मुकाबले हारने के बाद पाकिस्तान के लिए लगभग सेमीफाइनल का रास्ता बंद हो चुका था, लेकिन टीम की शानदार रणनीति ने इसे सेमीफाइनल की एंट्री दिला दी.

इसके अलावा नीदरलैंड के हाथों साउथ अफ्रीका की हार ने भी पाकिस्तान के लिए सेमीफाइनल का रास्ता खोल दिया, जहां दोनों टीमों के बीच पहला सेमीफाइनल मुकाबला बेहद ही रोचक माना जा रहा है.

ALSO READ: इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में होंगे बड़े बदलाव, इन 11 खिलाड़ियों के साथ उतरेगा भारत

पाकिस्तान के लिए बन रहा गजब का संयोग

इस साल हो रहे टी-20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में अगर देखा जाए तो पाकिस्तान के लिए बहुत बड़ा संयोग बन रहा है. क्योंकि 30 साल पहले ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी में खेला गया.

1992 का वर्ल्ड कप पाकिस्तान ने जीता था और आज 30 साल बाद जब यह टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी में खेला जा रहा है तो पाकिस्तान के लिए गजब के सहयोग बन रहे हैं.

ALSO READ: न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के सेमीफाइनल मैच में हो सकती झमाझम बारिश, जानिए ऐसा हुआ तो कौन सी टीम को मिलेगा फाइनल का टिकट